Home धर्म कुंभ मेला : कोविड गाइडलाइन के साथ होगा देव डोलियों का कुंभ...

कुंभ मेला : कोविड गाइडलाइन के साथ होगा देव डोलियों का कुंभ स्नान

8
0

ऋषिकेश। कोरोना वायरस संक्रमण की चुनौती के बीच देव डोलियों का कुंभ स्नान कोविड-19 की गाइडलाइन के तहत पूरी सुरक्षा के साथ होगा। देव डोलियों के कुंभ स्नान को शासन की अनुमति मिलने के बाद श्री देवभूमि लोक संस्कृति विरासतीय शोभायात्रा समिति ने गाइडलाइन के अनुसार शोभायात्रा और गंगा स्नान की व्यवस्था पर चर्चा की।
श्री देवभूमि लोक संस्कृति विरासत ई या शोभायात्रा समिति की बैठक चंद्र पैलेस ढलवाला में आयोजित की गई। बैठक में शासन से की ओर से देव डोलियों के कुंभ स्नान को अनुमति प्रदान किए जाने के बाद कोविड-19 की गाइड लाइन के अनुसार यात्रा व्यवस्थाएं तैयार करने पर चर्चा की गई। समिति के अध्यक्ष पूर्व काबीना मंत्री मोहन सिंह रावत गांववासी ने बताया कि 24 अप्रैल को उत्तराखंड सहित अन्य प्रदेशों से देव डोलिया गंगा स्नान के लिए ऋषिकेश पहुंचेंगी।
उन्होंने बताया कि शनिवार को देहरादून के नगर निगम क्षेत्रों और रविवार को उत्तराखंड के समस्त जनपदों में कोर्ट कर्फ्यू का ऐलान भी किया गया है। बावजूद इसके श्री देवभूमि लोक संस्कृति विरासतीय शोभायात्रा समिति को 24 अप्रैल को ऋषिकेश में तथा 25 अप्रैल को हरिद्वार में देव डोलियों की शोभायात्रा व स्नान की अनुमति शासन स्तर पर दी गई है। उन्होंने बताया कि देव डोलियों की शोभायात्रा व कुंभ स्नान कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए पूरी सुरक्षा के साथ संपन्न होगा। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड के तमाम जनपदों से देव डोलियां ऋषिकेश और हरिद्वार पहुंच रही हैं। बाहरी प्रदेशों से भी देव डोलियां कुंभ स्नान के लिए आएंगी।
उन्होंने सभी संयोजकों से कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुसार व्यवस्था तय करने का सुझाव दिया। देव डोली शोभा यात्रा के संयोजक संजय शास्त्री ने बताया कि गढ़वाल मंडल से आने वाली देव डोलिया 24 अप्रैल को भद्रकाली मंदिर में एकत्र होंगी, जहां भोजन प्रसाद के बाद देव डोलियां स्व. इंद्रमणि बडोनी चौक होते हुए चारधाम यात्रा बस टर्मिनल से पुराना तिहरी बस अड्डा होते हुए मायाकुंड पहुंचेंगे। इसी तरह देहरादून की ओर से आने वाली देव डोलियां भी इंद्रमणि बडोनी चौक होते हुए इसी रूट से मायाकुंड पहुंचेंगी।
यहां वाहनों को छोड़कर सभी श्रद्धालु पैदल त्रिवेणी घाट पहुंचेंगे, जहां दो से साढ़े तीन बजे तक देव डोलियों का गंगा स्नान होगा। इसके बाद नगर में भव्य शोभायात्रा के साथ देव डोलिया हरिद्वार मार्ग होते हुए भरत विहार पहुंचेगी। जहां से सायं छह बजे श्रद्धालु अपने-अपने वाहनों से हरिद्वार के लिए रवाना होंगे। उन्होंने बताया कि 25 अप्रैल को हरिद्वार में देव डोलियों का देव स्नान कुंभ पर्व मनाया जाएगा।
इस पूरे कार्यक्रम में कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन किया जाएगा, जिसमें मास्क, सैनिटाइजर और शारीरिक दूरी का पालन अनिवार्य होगा। बैठक में कार्यक्रम संयोजक आसाराम व्यास, डीएस गुसाईं, वेद प्रकाश शर्मा, गंभीर मेवाड़, रमा बल्लभ भट्ट, द्वारिका प्रसाद भट्ट, दौलतराम पैन्यूली, राजेश गौतम, मनीष बनवाल, विशाल मणि पैन्यूली, सूर्यवीर सिंह मटुडा, भगवान सिंह रांगड़, सुरेंद्र सिंह भंडारी, राकेश सेमवाल आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here