Home धर्म सूर्य और चंद्रमा के अंक से होली का उत्सव बनेगा खास, आत्मा...

सूर्य और चंद्रमा के अंक से होली का उत्सव बनेगा खास, आत्मा और मन को देगा बल

30
0

28 मार्च को रविवार है। दिनांक का अंक भी एक है। इस दिन फाल्गुन पूर्णिमा है। होलिका दहन से रंगोत्सव शुरू होगा। लोगों में दृढ़ता और आत्मविश्वास बढ़ेगा। सूर्य के प्रभाव से अंधकार पर प्रकाश की जीत होगी।

सूर्य ग्रह आत्मा के कारक हैं। लोगों में होली जीवन के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण लाएगी। लोग कोरोना के कारण एक दूसरे से बनी दूरी पाटने की कोशिश करेंगे। यह वे मास्क आदि लगाकर शासन के नियमों का पालन करते हुए भी कर सकते हैं। सूर्य के प्रभाव से लंबे से छाया कोरोनाकाल का नैराश्य कमजोर पड़ जाएगा।

29 तारीख में दो का अंक आता है। यह चंद्रमा का अंक है। इस दिन सोमवार भी है। चंद्रमा के अंक और वार से होली का उत्सव और प्रभावशाली होगा। मन का कारक चंद्रमा मनोबल बढ़ाएगा। लोगों में उत्साह का संचार होगा। प्रेम आस्था और आपसी विश्वास में वृद्धि होगी। चंद्रमा जल का कारक है। होली के दिन इस बार जल अपव्यय से बचें। ऐसा करने से चंद्रमा के शुभ फलों में कमी आ सकती है। हालंांकि होली में गीले और प्राकृतिक रंगों का प्रयोग करना अधिक अच्छा होगा।

च्ंद्रमा और सूर्य माता-पिता के कारक ग्रह हैं। इस बार होली पर माता-पिता से करीबी बढ़ाने से उम्मीद से अच्छे परिणाम मिलेंगे। यश धन और सुख तीनों की प्राप्ति होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here