Home » 2 टन वजनी हांडी में पकी 3700 किलो खिचड़ी, वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए कराई गई 24 घंटे वीडियोग्राफी

2 टन वजनी हांडी में पकी 3700 किलो खिचड़ी, वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए कराई गई 24 घंटे वीडियोग्राफी

भोपाल के अवधपुरी में स्थित साई मंदिर में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने का प्रयास किया जा रहा है। दरअसल यहां एक अनोखे भंडारे का आयोजन किया जा रहा है जिसमें करीब 3700 किलोग्राम खिचड़ी दो टन वजनी लोहे की हांडी में पकाई गई। फिर इसे करीब 1500 लोगों में बांटी गई। इसे पकाने में करीब 6 घंटे का समय लगा। इस खिचड़ी में 3 क्विंटल 80 किलो सब्जी, 350 किलो चावल और 60 किलो दाल डाली गई। इसमें करीब 5 लाख रुपए का खर्च आया। खिचड़ी बनने, उसे तौलने और फिर श्रद्धालुओं में बांटने तक हर एक गतिविधि को वीडियो में कैद किया गया। ताकि इसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए भेजा जा सके। इस भंडारे का आयोजन रमेश कुमार महाजन भेल में 37 साल नौकरी करने के बाद सेवा निवृत्त हुए। इस साई मंदिर के संस्थापक भी रमेश ही है। इतना ही नहीं इसके लिए विशेष तौर पर लोहे की हांडी तैयार कराई गई। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में पिछले साल रजिस्टेशन करा लिया गया था।

एक्सपर्ट पैनल ने जांची गुणवत्ता

आपको बता दें कि इसकी गुणवत्ता की जांच के लिए भी टीम आई थी, जिसमें खाद्य सुरक्षा अधिकारी डीके दुबे, भोजराज सिंह धाकड़, नगर निगम के एडिशनल कमिश्नर गुणवंत सेवंथकर, एनसीसी कमांडेंट योगेशकुमार सिंह, पशुपालन विभाग के एडिशनल डिप्टी डायरेक्टर भगवानदास मंगलानी और एनएचडीसी महाप्रबंधक पीके सक्सेना मौजूद रहे।

24 घंटे तक की हुई वीडियो रिकॉर्डिंग

गुरुवार सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक खिचड़ी पकाने का काम हुआ, इसके बाद इसका वितरण किया गया। इस पूरे आयोजन की वीडियो रिकॉर्डिंग की गई, जो गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए भेजी जाएगी। यह रिकॉर्डिंग खिचड़ी पकाने की शुरुआत से आखिरी तक चली।

3.80 क्विंटल सब्जी, साढ़े 3 क्विंटल चावल, 60 किलो दाल का उपयोग
खिचड़ी बनाने में 3 क्विंटल 80 किलो सब्जी का उपयोग किया गया है। साढ़े 3 क्विंटल चावल के साथ 40 किलो तुअर दाल, 20 किलो चना दाल के साथ ही 60 किलो हरी मूंग का इस्तेमाल किया गया।

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd