अग्निपथ के विरोध में युवाओं को सोशल मिडिया से भड़काने वाले शख्स का हुआ खुलासा

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

पटना। अग्निपथ योजना के घोषणा करते ही अगले दिन देशभर सहित बिहार में युवाओं द्वारा सडको पर उतर बवाल मचाया गया । बिहार में मौहाल शांत होने के बाद अब पुलिस हिंसा भड़काने वाले लोगों की तलाश में जुट गई है। इस बीच पुलिस के सामने हिंसा भड़काने वाले ट्रेनर का नाम सामने आया है।

ट्रेनर रंजन दुबे नाम के शख्स का का हाथ मुजफ्फरपुर के युवाओं को भीड़ जुटाकर हिंसा के लिए भड़काने में होना बताया जा रहा है। पुलिस अधिकारियोँ ने बताया कि युवाओं ने विरोश के शुरुआत में चक्कर चौक को जाम किय। इसी दौरान रंजन दुबे ने उत्पाद मचाने के लिए उकसाय।

ये भी पढ़ें:  MharastraPoliticalCrisis ;भाजपा ने दिया एकनाथ शिंदे को डिप्टी सीएम बनने का ऑफर

इसी के चलते प्रदर्शन के रहे युवाओं ने रेलवे और हाइवे ने आगजनी कि घटना को अंजाम दिय। बवाल खड़ा किए युवाओं ने चक्कर चौक से आगजनी और तोड़फोड़ करते हुए मादीपुर और भगवानपुर चौक पहुंचे थे। सदर थाना स्थित पुलिस रंजन दुबे को हिंसा भड़काने के मुख्य आरोपी के रूप में देख रहा है। मामले में रंजन दुबे अपने वकील के साथ कोर्ट पहुंचा हुआ था।

लेकिन नामजद आरोपी होने के चलते खुद को सरेंडर नहीं किय। स्पेशल टीम द्वारा रंजन दुबे के सोशल मिडिया एकाउंड कि पड़ताड़ किया गया तो हिंसा उकसाने में उन्हें शामिल पाया गया । इसके बाद आरोपी फरार हो गया हैं।

ये भी पढ़ें:  चंद घंटों की मेहमान बची उद्धव सरकार, दे सकते हैं इस्तीफा! कुछ देर में आएगा सर्वोच्च न्यायालय का फैसला

रंजन दुबे अपने सोशल मिडिया एकाउंड के जरिये युवाओं से जुड़कर उन्हें गाइड करते थे। फिलहाल पटना पुलिस लगातर ऐसे लोगों के गिरफ़्तारी के लिए छापेमारी कार्यवाई कर रही हैं।

The person who instigated the youth with social media in protest against Agneepath was revealed. agnipath ke virodh mein yuvaon ko soshal midiya se bhadakaane vaale shakhs ka hua khulaasa

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News