Home खास ख़बरें तमिलनाडु में बोले अमित शाह: ‘फूट डालो राज करो’ की राजनीति करते...

तमिलनाडु में बोले अमित शाह: ‘फूट डालो राज करो’ की राजनीति करते हैं द्रमुक और कांग्रेस

72
0

विलुप्पुरम। आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को तमिलनाडु के विलुप्पुरम में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं दुखी हूं कि आपसे तमिल में बात नहीं कर सकता। यह भारत की सबसे प्राचीन और सबसे मधुर भाषाओं में से एक है। मैं आपसे क्षमा मांगता हूं।
इसके बाद कांग्रेस और द्रमुक पर हमला बोलते हुए शाह ने कहा, एक ओर जहां अन्नाद्रमुक और एनडीए गरीबों के हित के लिए सोच रही हैं वहीं द्रमुक और कांग्रेस भ्रष्ट हैं और फूट डालो राज करो की राजनीति करते हैं। उन्होंने कहा, ‘सोनिया जी राहुल बाबा को प्रधानमंत्री बनाने के लिए चिंतित हैं और स्टालिन को उदयनिधि को मुख्यमंत्री बनाने की चिंता है।’
उन्होंने कहा कि सत्ता मे रहने के दौरान कांग्रेस 12 लाख करोड़ रुपये के घोटाले में शामिल थी और उस समय डीएमके इसके साथ गठबंधन में थी और ये सभी तीन – 2 जी, 3 जी और 4 जी तमिलनाडु में मौजूद हैं। 2 जी का मतलब है- दूसरी पीढ़ी का मारन परिवार, 3 जी का मतलब है तीसरी पीढ़ी का करुणानिधि का परिवार और 4 जी का मतलब है चौथी पीढ़ी का गांधी परिवार।
2022 तक भारत के हर नागरिक के पास पक्का मकान
शाह ने कहा कि पिछले साढ़े छह वर्षों में देश में लगभग हर व्यक्ति को हम मकान देने के कगार पर खड़े हैं। 2022 में एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं होगा जिसके पास अपना पक्का मकान नहीं होगा। 60-70 साल से जो काम कांग्रेस नहीं कर पाई वह काम भाजपा ने 6 सालों में करके दिखाया है।
पुडुचेरी में मत्स्य मंत्रालय को लेकर राहुल पर बोला हमला
अमित शाह ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के मछुआरों के लिए अलग मंत्रालय बनाए जाने की मांग को लेकर हमला बोला। मत्स्य मंत्रालय नहीं होने का दावा करने को लेकर अमित शाह ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस नेता ‘छुट्टी’ पर थे और राजग ने 2019 में ही इसका गठन कर दिया था।
शाह ने कहा, मैं पुडुचेरी की जनता को पूछना चाहता हूं, जिस पार्टी के नेता चार टर्म से लोकसभा में है, उसको ये भी मालूम नहीं है कि दो साल से देश में मत्स्य पालन विभाग शुरू हो चुका है। वो पार्टी पुडुचेरी का कल्याण कर सकती है? मत्स्य पालन के महत्वपूर्ण इंफ्रास्ट्रक्चर की खामियों को दूर करने के लिए मोदी सरकार ने 20 हजार करोड़ रुपये का बजट दिया है। इसका सबसे ज्यादा फायदा हमारे पुडुचेरी को मिलने वाला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here