Home राजनीती दिल्ली दौरे पर बंगाल के गवर्नर जगदीप धनखड़, राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात,...

दिल्ली दौरे पर बंगाल के गवर्नर जगदीप धनखड़, राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात, गृह मंत्री अमित शाह से भी मिलेंगे

31
0

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद राजनीतिक हिंसा और भाजपा के दो दर्जन विधायकों के पाला बदलने की खबरों के बीच मंगलवार को दिल्ली पहुंचे राज्य के गवर्नर जगदीप धनखड़ ने आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। शाम को वह गृह मंत्री अमित शाह से मिलने वाले हैं। यह जानकारी गवर्नर हाउस के आधिकारिक सूत्रों ने दी है। वे 18 जून को कोलकाता वापस जाएंगे। इससे पहले बुधवार को राज्यपाल ने दिल्ली में केंद्रीय मंत्रियों प्रह्लाद जोशी और प्रह्लाद सिंह पटेल से भी मुलाकात की।

उन्होंने ट्वीट किया कि भारत के कोयला, खनन एवं संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी से विभिन्न मुद्दों पर सार्थक बातचीत हुई। ट्विटर पर किए गए एक अन्य पोस्ट में उन्होंने कहा कि केंद्रीय सांस्कृतिक, पर्यटन मंत्री प्रह्लाद पटेल के साथ विक्टोरिया मेमोरियल, भारतीय संग्रहालय समेत अन्य मुद्दों पर सार्थक चर्चा हुई। इसका मकसद इन निकायों के प्रभाव को बढ़ाना है।

दिल्ली में केंद्रीय मंत्रियों से मिले तो तृणमूल ने उठाया सवाल

इस पर तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व सांसद सौगत रॉय ने कहा कि हमने ऐसे राज्यपाल को कभी नहीं देखा, जो संविधान और उसके मानदंडों का सम्मान नहीं करते हैं। वह प्रत्येक संवैधानिक मानदंड का उल्लंघन करते रहे हैं। हमारे संविधान के अनुसार राज्यपाल को मुख्यमंत्री की अध्यक्षता वाले मंत्री परिषद के निर्देशों के अनुसार कार्य करना चाहिए, लेकिन वह इस तरह के किसी भी मानदंड का पालन नहीं करते हैं और अपनी मर्जी और कल्पना के मुताबिक काम करते हैं।

न्होंने सवाल किया कि राज्यपाल दिल्ली क्यों गए हैं और वहां केंद्रीय मंत्रियों से क्यों मिल रहे हैं? वहीं, तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने राज्यपाल पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया- अंकल जी ने कहा है कि वे दिल्ली जा रहे हैं। बंगाल के राज्यपाल साहब, दया करके अब लौटिएगा मत।

बंगाल में चुनाव बाद हिंसा की राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से की शिकायत

धनखड़ ने बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद हिंसा की राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से शिकायत की है। उन्होंने बुधवार को आयोग के चेयरमैन व सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस अरुण कुमार मिश्रा से मुलाकात की और उन्हें बंगाल के हालात से अवगत कराया। दूसरी ओर, तृणमूल कांग्रेस व वाममोर्चा ने राज्यपाल को लेकर निशाना साधा है।

Previous articleकर्नाटक में नेतृत्‍व परिवर्तन की अटकलों के बीच महासचिव अरुण सिंह ने विधायकों और मंत्रियों के साथ बैठक की
Next articleपाकिस्तानी अभिनेत्री मीरा मांग रही है पीएम इमरान खान से मदद, कहा, जमीन विवाद में हुआ मां का अपहरण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here