Home राजनीति अफगानिस्तान में तालिबान की वजह से बांग्लादेश में हिंदुओं पर हो रहे...

अफगानिस्तान में तालिबान की वजह से बांग्लादेश में हिंदुओं पर हो रहे हमलेः दिलीप घोष

54
0

नई दिल्ली। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने मंगलवार को अफगानिस्तान में हाल के घटनाक्रम को बांग्लादेश में हिंदुओं पर हमले से जोड़ा है। कहा है कि अफगानिस्तान में तालिबान सरकार बनने से बांग्लादेश में हिंदुओं के खिलाफ अत्याचार बढ़ गया है।

दिल्ली के जंतर-मंतर पर एक विरोध प्रदर्शन के दौरान भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ”अफगानिस्तान में हाल के घटनाक्रमों ने बांग्लादेश में आतंकवादी संगठनों के लिए एक प्रेरणा के रूप में काम किया है, यही कारण है कि वहां हिंदुओं पर हमले बढ़ गए हैं।”

दिलीप घोष इस साल अगस्त में अफगानिस्तान में कट्टरपंथी तालिबान शासन की वापसी का जिक्र कर रहे थे, जिसने अल्पसंख्यक समुदायों के कई लोगों को दूसरे देशों में शरण लेने के लिए मजबूर किया।

बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों पर हुए हालिया हमलों को लेकर मंगलवार को दिलीप घोष और भाजपा के अन्य नेताओं ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना दिया। बंगाली हिंदू बचाओ समिति के बैनर तले आयोजित विरोध प्रदर्शन में भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारी समिति के सदस्य अनिर्बान गांगुली भी धरनास्थल पर मौजूद रहे।

अनिर्बान गांगुली ने कहा, “बांग्लादेश में हिंदू समुदाय पर बार-बार हमला हो रहा है। एक घटना शांत हो जाती है और दूसरी घटित हो जाती है। ऐसे में बांग्लादेश सरकार को इस बारे में कुछ करना चाहिए, क्योंकि हिंदुओं ने भी बांग्लादेश की आजादी के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है, इसलिए उनकी भी रक्षा की जानी चाहिए।”

दिलीप घोष ने अपने मुखपत्र ‘जागो बांग्ला’ में एक संपादकीय के लिए तृणमूल कांग्रेस को भी आड़े हाथों लिया है, जिसमें टीएमसी ने बांग्लादेशी हिंदुओं पर हमलों पर चुप्पी बनाए रखने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की और भाजपा पर राजनीतिक लाभ हासिल करने की कोशिश करने का आरोप लगाया।

इस संदर्भ में दिलीप घोष ने टीएमसी से ही सवाल किया, “घटना बांग्लादेश में हुई, हम इसकी साजिश कैसे कर सकते हैं? त्रिपुरा और असम जाने वाले बंगालियों की जिम्मेदारी लेने वाली टीएमसी को बांग्लादेश की जनता के साथ खड़ा होना चाहिए। उन्होंने बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों की सुरक्षा के लिए अपील क्यों नहीं की?”

जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन में भाजपा पदाधिकारियों ने पश्चिम बंगाल में टीएमसी सरकार पर हमला करते हुए आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल राज्य भी बांग्लादेश जैसी स्थिति की ओर बढ़ रहा है।

पिछले एक सप्ताह से बांग्लादेश में हिंदुओं के खिलाफ हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। कोमिला इलाके में दुर्गा पूजा के पंडाल में तोड़फोड़ से शुरू हुई हिंसा देशभर में फैल चुकी है। कुरान के कथित अपमान के विरोध में कट्टरपंथियों ने हिंदुओं को हर जगह निशाना बनाया। अब तक इस हिंसा में आधा दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है तो हाल ही में कुछ अराजक तत्वों ने रंगपुर जिले के पीरगंज गांव में 29 घरों को फूंक दिया। वहीं, मामले में बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने देश में सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश करने वालों को कड़ी चेतावनी दी है, साथ ही वादा किया है कि सांप्रदायिक हिंसा के अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Previous articleधनबाद में मिली अनोखी मछली, मगरमच्छ जैसा सिर और बॉडी मछली जैसी
Next articleधार में पुलिस पर पत्थरबाजी, जबलपुर में जलते पटाखे फेंककर मचाया उपद्रव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here