Home देश बिहार में ही बेरोजगारों और बाहर से लौटे मजदूरों को रोजगार उपलब्ध...

बिहार में ही बेरोजगारों और बाहर से लौटे मजदूरों को रोजगार उपलब्ध करायेंगे : जीवेश मिश्र

14
0

पटना। बिहार के प्रवासी मजदूर एक बार फिर से पलायन करने को मजबूर हैं। बड़ी संख्या में लोग बिहार लौट रहे हैं। बिहार सरकार ने प्रवासी मजदूरों के लिए एक बड़ा एलान किया। बिहार सरकार में श्रम संसाधन विभाग के मंत्री जीवेश मिश्रा ने कहा कि प्रवासी मजदूरों को बिहार में ही रोजगार मुहैया कराया जाएगा।

श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा ने शुक्रवार को कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली राजग सरकार बिहार के लोगों को रोजगार देने के लिए संकल्पित है। इसी के मद्देनजर मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के तहत हम दस लाख रुपये का लोन बेरोजगार युवाओं को देंगे। इसमें से पांच लाख रुपये अनुदान है और बाकी के पांच लाख रुपये 84 आसान किस्तों में चुकाने हैं। उन्होंने कहा कि इससे राज्य में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे,क्योंकि स्वरोजगार से कोई युवा जुड़ता है तो वह अपने साथ रहने वाले लोगों को भी रोजगार देता है।

मंत्री जीवेश मिश्र ने इस बात को स्वीकार किया कि अफसरशाही इसमें बहुत बड़ी बाधा है। लेकिन हम उस दिशा में भी तेजी से काम कर रहे हैं। हमारी सरकार बिहार को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सतत प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि बिहार राज्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में राज्य के 14 लाख 87 हजार 23 श्रमिक पंजीकृत हैं। यह भवन निर्माण सहित अन्य क्षेत्रों में काम करने वाले वे श्रमिक हैं, जिनकी आयु 60 वर्ष तक है। ऐसे श्रमिकों को राज्य सरकार चिकित्सा अनुदान के नाम पर हर साल तीन हजार रुपये देती है। इस साल भी यह पैसा श्रमिकों को भेजा जा रहा है। वित्तीय वर्ष 2020-21 की इस राशि को श्रम संसाधन विभाग ने बैंकों को ट्रांसफर करने की प्रक्रिया आरंभ कर दी। जल्द सभी श्रमिकों के खातों में यह राशि डीबीटी (डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर) के जरिए पहुंच जाएगी।

उन्होंने कहा कि तकरीबन 9:30 लाख श्रमिकों का डाटा बनाया गया है,जो लोग बिहार में काम करना चाहते हैं, उनके लिए प्रोत्साहन राशि भी दी जा रही है।जो लोग मनरेगा में काम करना चाहते हैं, उनके लिए भी सरकार तत्पर है। उन्होंने कहा कि मजदूरों के लिए टोल फ्री नंबर जारी किया गया है, जिससे उन्हें काफी सहूलियत होगी। इसके लिए बिहार सरकार के श्रम संसाधन विभाग ने प्रवासी श्रमिकों की सहायता के लिए कंट्रोल रूम बनाया है। प्रवासी श्रमिक टोल फ्री नंबर नंबर 18003456138 पर फोन करके कंट्रोल रूम से बात कर सकते हैं।

मंत्री जीवेश मिश्रा ने कहा कि बिहार के किसी भी जिले में रहने वाले प्रवासी मजदूर टोल फ्री नंबर पर फोन कर सेवा ले सकते हैं। उन्हें 24 घंटे के भीतर सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। मंत्री ने कहा कि पंचायत स्तर पर मैपिंग की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here