Home » रामनवमी के जुलूस के दौरान कई राज्यों में हिंसक झड़प, 22 लोग घायल,54 गिरफ्तार

रामनवमी के जुलूस के दौरान कई राज्यों में हिंसक झड़प, 22 लोग घायल,54 गिरफ्तार

  • हिंसा और झड़पों की कुछ घटनाओं ने गुरुवार को देशभर में रामनवमी के जुलूसों को प्रभावित किया जिसमें 22 लोग घायल हो गए ।
  • 54 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। यह झड़प संभाजीनगर वडोदरा और हावड़ा में देखने को मिली।
    नई दिल्ली ।
    गुरुवार को रामनवमी की जुलूस के दौरान कुछ राज्यों में हिंसा और झड़प की घटनाएं देखने को मिली, जिसमें 22 लोग घायल हो गए और 54 लोगों को गिरफ्तार किया है। इन राज्यों में पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और गुजरात शामिल हैं। महाराष्ट्र के छत्रपति संभाजीनगर में भीड़ ने एक मंदिर पर पत्थर और पेट्रोल से भरी बोतलें फेंकी, जिससे हिंसा भड़क गई और 10 पुलिसकर्मियों समेत 12 लोग घायल हो गए। मामले में पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया है। इसके अलावा, गुजरात के वड़ोदरा और पश्चिम बंगाल के हावड़ा से भी पथराव की दो अलग-अलग घटनाएं सामने आईं।
    जहांगीरपुरी में तनाव
    दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में रामनवमी के जुलूस को लेकर तनाव देखने को मिला। हालांकि, पुलिस ने भारी सुरक्षा के बीच रैली की अनुमति दी। अन्य जगहों पर रामनवमी बिना किसी बड़े संघर्ष के शांतिपूर्वक संपन्न हुई।
    संभाजीनगर में दो समूहों के बीच झड़प
    मिली जानकारी के मुताबिक, संभाजीनगर के किरादपुर इलाके में राम मंदिर के पास गुरुवार तड़के पांच-पांच लोगों के दो समूह आपस में भिड़ गए। इसकी जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। कुछ देर बाद एक गुट वहां से चला गया। एक घंटे के बाद वहां भीड़ इकट्ठा हो गई और पुलिसकर्मियों पर पत्थर-पेट्रोल से भरी बोतलें फेंकनी शुरू कर दी। इससे इलाके की स्ट्रीट लाइटें भी खराब हो गईं, जिससे अंधेरा छा गया। इस दौरान 10 पुलिसकर्मी और दो अन्य घायल हो गए। पुलिस के 13 वाहनों को भी जला दिया गया। मामले में करीब 400-500 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि मलाड के मालवानी इलाके में ‘राम नवमी’ शोभा यात्रा के दौरान गुरुवार को दो समूहों के बीच हुई हाथापाई के बाद 20 लोगों को हिरासत में लिया गया है। कुछ देर के लिए स्थिति तनावपूर्ण थी, लेकिन अब नियंत्रण में है। इलाके में माहौल खराब करने के आरोप में 300 से अधिक अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।
    घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण- फडणवीस
    महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, जिनके पास गृह विभाग भी है, ने इस घटना को ‘बेहद दुर्भाग्यपूर्ण’ बताया। उन्होंने कहा कि सभी को शांति बनाए रखनी चाहिए। अगर कोई इस घटना को राजनीतिक रंग देने की कोशिश कर रहा है तो यह दुर्भाग्यपूर्ण है।
    हावड़ा में 10 लोग घायल
    पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले के काजीपाड़ा इलाके में रामनवमी के जुलूस के दौरान मुस्लिम बहुत बस्ती में छतों से पथराव किया गया, जिसके बाद हिंसा शुरू हो गई। इस दौरान उपद्रवियों ने कई वाहनों में आग लगा दी, जबकि कई दुकानों में तोड़फोड़ की। बदमाशों ने ईंट-पत्थर से हमला कर दो पुलिसकर्मियों समेत करीब दस लोगों को घायल कर दिया। मामले में रात करीब 10 बजे तक 30 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। छापेमारी चल रही है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया। शोभायात्रा का आयोजन विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल ने किया था।
    वडोदरा में रामनवमी के जुलूस पर फेंके गए पत्थर
    गुजरात के वडोदरा शहर में फतेहपुरा और कुंभरवाड़ा इलाकों में रामनवमी के जुलूस पर पत्थर फेंके गए। यह घटना उस समय हुई, जब जुलूस एक मस्जिद के पास पहुंचा और लोग मौके पर जमा होने लगे। मौके पर पहुंची पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर किया, जिससे जुलूस अपने मार्ग पर आगे बढ़ा। शहर में ऐसे सभी जुलूसों को पहले से ही पुलिस सुरक्षा दी गई थी। पुलिस ने कहा कि दोनों घटनाओं में कोई घायल नहीं हुआ, लेकिन 20 लोगों को हिरासत में लिया गया है।
    20 लोगों को हिरासत में लिया गया
    कुंभरवाड़ा में एक जुलूस पर पथराव किया गया। शहर के पुलिस आयुक्त शमशेर सिंह ने कुंभरवाड़ा का दौरा किया और कहा कि घटना के लिए जिम्मेदार लोगों को सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गिरफ्तार किया जाएगा। उन्होंने बताया कि कुंभरवाड़ा में पथराव की दूसरी घटना इलाके में झड़पों की अफवाह फैलने के बाद हुई। दोनों घटनाओं में 20 लोगों को हिरासत में लिया गया है। आगे की जांच जारी है। अभी तक किसी के घायल होने की खबर नहीं है।

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd