Home » दिसंबर से दिल्‍ली से कटरा का सफर होगा आसान, सड़क मार्ग से 6 घंटे में पहुंचेंगे

दिसंबर से दिल्‍ली से कटरा का सफर होगा आसान, सड़क मार्ग से 6 घंटे में पहुंचेंगे

  • दिल्‍ली अमृतसर कटरा एक्‍सप्रेसवे 670 किलोमीटर लंबा होगा
  • दिल्‍ली, पंजाब, हरियाणा और राजस्‍थान आने जाने में सुविधा होगी
    नई दिल्‍ली.
    माता वैष्‍णो देवी के दर्शन करने के लिए सड़क मार्ग से जाने वालों के लिए अच्‍छी खबर है. दिसंबर से दिल्‍ली से वैष्‍णो देवी कटरा का सफर केवल छह घंटे का रह जाएगा. अभी 12 से 14 घंटे का सफर है. सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय दिल्‍ली अमृतसर कटरा ग्रीन फील्‍ड एक्‍सप्रेसवे बना रहा है, जो इस वर्ष दिसंबर तक तक तैयार हो जाएगा, जिससे सड़क मार्ग से आना जाना सहज हो जाएगा. सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के अनुसार दिल्‍ली अमृतसर कटरा एक्‍सप्रेसवे 670 किलोमीटर लंबा होगा. नितिन गडकरी ने एक्‍सप्रेसवे समेत जम्‍मू कश्‍मीर में चल रहे तमाम प्रोजेक्‍ट का निरीक्षण किया. गडकरी ने बताया कि अभी कटरा तक की दूरी 757 किमी है. इसके निर्माण में 37524 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है. एक्‍सप्रेसवे के निर्माण के बाद दूरी भी 58 किमी कम हो जाएगी. मौजूदा समय दिल्‍ली से वैष्‍णोदेवी,कटरा सड़क मार्ग से जाने में करीब 14 घंटे लग जाते हैं और दिल्‍ली से अमृतसर 405 किलोमीटर जाने में करीब आठ घंटे का समय लगता है लेकिन एक्‍सप्रेसवे बनने के बाद कटरा तक की दूरी छह घंटे में और अमृतसर की दूरी चार घंटे में तय की जा सकेगी. इतना ही नहीं भविष्‍य में श्रीनगर तक की दूरी भी आठ घंटे में पूरी की जाएगी. एक्‍सप्रेसवे पर ट्रक स्टॉप, फूड कोर्ट, ट्रॉमा सेंटर, एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड और ट्रैफिक पुलिस स्टेशन बनेंगे. यह तीन राज्‍यों (हरियाणा, पंजाब और जम्‍मू कश्‍मीर) से गुजरेगा. इससे तैयार होने के बाद दिल्‍ली, पंजाब, हरियाणा और राजस्‍थान आने जाने में सुविधा होगी. यह एक्‍सप्रेसवे सबसे अधिक पंजाब से 422 किमी. गुजरेगा. हरियाणा में 158 किमी. लंबा एक्‍सप्रेसवे होगा. एक्‍सप्रेसवे कुंडली मनेसर पलवल (केएमपी) इंटरचेंज से शुरू होगा, जो झज्‍जर, रोहतक, सोनीपत,जींद, करनाल और कैथल जिलों से होकर गुजरेगा.