Home देश किसान आंदोलन स्थल पर 4 ढांचों में आग, टिकैत बोले हमें पहले...

किसान आंदोलन स्थल पर 4 ढांचों में आग, टिकैत बोले हमें पहले से आशंका थी

29
0
New Delhi, Jan 28 (ANI): Bharatiya Kisan Union leader Rakesh Tikait getting emotional while speaks to media at Ghazipur border in New Delhi on Thursday. (ANI Photo)

नई दिल्ली। दिल्ली की सीमाओं पर केंद्र सरकार के द्वारा पारित किए गए तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन पिछले चार महीने से भी अधिक समय से चल रहा है। पिछले साल नवंबर में शुरू हुआ आंदोलन अप्रैल की भीषण गर्मी में भी जारी है। इसी बीच दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर किसानों के लिए बने अस्थाई ढांचे में आग लग गई। सिंघु बॉर्डर पर टेंट में लगी आग पर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि इसकी आशंका पहले से ही थी। दिल्ली हरियाणा सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों के लिए बने तीन से चार अस्थायी ढांचे आग लगने की वजह से क्षतिग्रस्त हो गए।

अचानक लगी आग को देखकर किसानों में अफरा-तफरी मच गई और वहां मौजूद किसानों ने किसी तरह भागकर अपनी जान बचाई। आग की लपेटें फैलती देखकर आसपास खड़ी ट्राली को वहां से दूर किया गया। इस दौरान किसानों ने कहा कि कुछ असामाजिक तत्वों ने जानबूझ कर किसानों के टेंट में आग लगाई है ताकि प्रदर्शन कर रहे किसानों का मनोबल तोड़ा जा सके। हालांकि बाद में दमकल विभाग ने जैसे तैसे कोशिश कर आग को बुझाया।


बड़ा हदसा टला


किसान नेता नेता राकेश टिकैत ने इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि आज सिंघु बॉर्डर पर 4 टेंट आग लगने से जलकर राख हो गए। एक बड़ा हादसा टल गया। इसकी आशंका पहले ही व्यक्त की गयी थी। साथ ही राकेश टिकैत ने कहा कि हरियाणा सरकार व केंद्र सरकार किसानों की सुरक्षा हेतु अग्निशमन के आवश्यक इंतजाम करे। हालांकि किसान नेता बलदेव सिंह सिरसा ने आरोप लगाया कि यह साजिश है और किसी ने जानबूझकर आग लगाई। साथ ही उन्होंने दावा किया कि कुछ किसानों ने एक व्यक्ति को भागते हुए देखा। पुलिस अधिकारी ने कहा कि किसानों के दावों की जांच की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here