Home देश उप्र के परिवहन निगम के चेयरमैन धर्मांतरण के फायदे गिनाते वीडियो सोशल...

उप्र के परिवहन निगम के चेयरमैन धर्मांतरण के फायदे गिनाते वीडियो सोशल मीडिया में वायरल, सरकार ने बैठाई जांच

22
0

कानपुर। उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के चेयरमैन इफ्तिखारुद्दीन का विवादित वीडियो वायरल होने के बाद हड़कंप मच गया है। मामले के प्रकाश में आने पर उत्तर प्रदेश सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं। प्रदेश सरकार एसआईटी से जांच करने के आदेश दिए हैं। पुलिस ने भी जांच शुरू कर दी है। आईएएस अधिकारी मोहम्मद इफ्तिखारुद्दीन का धर्मांतरण गैंग से कनेक्शन सामने आ रहा है। उनके सरकारी आवास पर उनकी मौजूदगी में धर्म परिवर्तन को लेकर तकरीरें की गईं। तकरीरों के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, जिसके बाद हड़कंप मच गया है। 

जांच के लिए एसआईटी गठित
आरोप है कि वीडियो में वरिष्ठ आईएएस दूसरे समुदाय के लोगों को कट्टरपंथ का पाठ पढ़ा रहे हैं। वीडियो उनके आवास का बताया जा रहा है। हालांकि स्वदेश समाचार-पत्र समूह इस वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता है। मामले के तूल पकडऩे के बाद पुलिस कमिश्नर असीम अरुण ने वायरल वीडियो की जांच एडीसीपी पूर्वी सोमेंद्र मीणा को सौंप दी। उन्होंने बताया कि जांच में देखा जाएगा कि क्या वीडियो में कोई अपराध प्रदर्शित हो रहा है? या वरिष्ठ आईएएस की ओर से किसी नियम का उल्लंघन किया गया है?

मठ-मंदिर समन्वय समिति ने की शिकायत

इस मामले की दो दिन पहले ही मठ-मंदिर समन्वय समिति के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भूपेश अवस्थी ने मुख्यमंत्री से शिकायत की थी। इसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि वरिष्ठ आईएएस सनातन धर्म के विरुद्ध प्रचार-प्रसार कर रहे हैं, जिससे हिंदू समाज की भावनाएं आहत हुई हैं। वहीं, मामले में उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि कानपुर और उन्नाव दौरे के समय मुझे कुछ लोगों ने इस प्रकरण से अवगत कराया था। यह गंभीर मामला है। इस मामले की जांच कराएंगे। जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई की जाएगी। 

Previous articleचन्नी सरकार में मंत्रियों के विभागों का बंटवारा, सुखजिंदर सिंह रंधावा बने गृह मंत्री
Next articleगृह मंत्री से मिलने पहुंचे कांग्रेस विधायक गोविंद सिंह, बोले- किसी को रिश्ते निभाना सीखना है तो डॉ. नरोत्तम मिश्रा से सीखे- Video news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here