Home देश देश के इन पांच राज्यों में आए कोरोना के सबसे ज्यादा नए...

देश के इन पांच राज्यों में आए कोरोना के सबसे ज्यादा नए मामले, पिछले 24 घंटों में 118 लोगों की गई जान

10
0

नई दिल्ली। भारत में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी जारी है। पिछले 24 घंटों में देश में 23 हज़ार 291 नए मामले सामने आए हैं और 118 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है। इसके साथ ही भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 1 करोड़ 13 लाख 85 हजार 339 हो गई है, जिसमें से 1 लाख 58 हज़ार 725 लोगों की संक्रमण की वजह से मौत हुई है, जबकि 1 करोड़ 10 लाख 7 हजार 352 मरीज संक्रमण से पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। वहीं भारत मेें 2 लाख 19 हजार 262 एक्टिव केस हैं, जिनका इलाज चल रहा है।

पिछले 24 घंटों में 26 हजार 291 नए मामले दर्ज किए गए, जिसमें सबसे ज्यादा मामले पांच राज्यों में हैं। ये राज्य हैं महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु। इन राज्यों में कोरोना के नए मामलों की वृद्धि जारी है। पिछले 24 घंटों में रिपोर्ट किए गए नए मामलों में से 85.22 प्रतिशत केस इन राज्यों में हैं। महाराष्ट्र में 16 हजार 620 नए मामले सामने आए हैं, जो कि 24 घंटों में आए मामलों का 63.21 प्रतिशत है। इसके बाद केरल में 1,792, पंजाब में 1,492, कर्नाटक में 934, गुजरात में 810 और तमिलनाडु में 759 नए मामले सामने आए हैं।

भारत का कुल एक्टिव केस लोड आज 2 लाख 19 हजार 262 हो गया है, जिसमें कुल संक्रमित मामलों का 1.93 प्रतिशत है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक तीन राज्य, महाराष्ट्र, केरल और पंजाब में भारत के कुल सक्रिय मामलों का 77 प्रतिशत हिस्सा है। वहीं, देश में कुल एक्टिव मामलों में से 58 प्रतिशत से अधिक अकेले महाराष्ट्र में है।

वहीं पिछले 24 घंटों में 118 मौतें हुईं हैं। पिछले 24 घंटों में हुई कोरोना से मौतों में से 82.20 प्रतिशत सिर्फ 6 राज्यों में हैं। ये राज्य हैं- महाराष्ट्र, पंजाब, केरल, तमिलनाडु, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 50 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है। इसके बाद पंजाब में 20, केरल में 15, तमिलनाडु, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल में 4-4 मौतें पिछले 24 घंटों में हुई हैं।

दूसरी ओर भारत में तेजी से कोरोना का टीकाकरण हो रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक आज सुबह 7 बजे तक 2 करोड़ 13 लाख 8 हजार 38 वैक्सीन की खुराक दी गई है।

इनमें 73 लाख 55 हजार 755 हेल्थकेयर वर्करों को पहली खुराक और 43 लाख 5 हजार 118 हेल्थकेयर वर्करों को दूसरी खुराक दी गई है। इसके अलावा 73 लाख 40 हज़ार 423 फ्रंटलाइन वर्करों को पहली खुराक और 11 लाख 50 हज़ार 535 फ्रंटलाइन वर्करों को दूसरी खुराक दी गई है। वहीं 14 लाख 64 हज़ार 14 लाभार्थी, जिनकी उम्र 45 वर्ष से ज्यादा है और गंभीर बीमारी से ग्रसित हैं, उन्हें और 60 साल से ज्यादा उम्र के 82 लाख 92 हज़ार 193 लाभार्थीयों को पहली डोज दी गई है।

पिछले 24 घंटों में 26 हजार 291 नए मामले दर्ज किए गए, जिसमें सबसे ज्यादा मामले पांच राज्यों में हैं। ये राज्य हैं महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु। इन राज्यों में कोरोना के नए मामलों की वृद्धि जारी है। पिछले 24 घंटों में रिपोर्ट किए गए नए मामलों में से 85.22 प्रतिशत केस इन राज्यों में हैं। महाराष्ट्र में 16 हजार 620 नए मामले सामने आए हैं, जो कि 24 घंटों में आए मामलों का 63.21 प्रतिशत है। इसके बाद केरल में 1,792, पंजाब में 1,492, कर्नाटक में 934, गुजरात में 810 और तमिलनाडु में 759 नए मामले सामने आए हैं।

भारत का कुल एक्टिव केस लोड आज 2 लाख 19 हजार 262 हो गया है, जिसमें कुल संक्रमित मामलों का 1.93 प्रतिशत है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक तीन राज्य, महाराष्ट्र, केरल और पंजाब में भारत के कुल सक्रिय मामलों का 77 प्रतिशत हिस्सा है। वहीं, देश में कुल एक्टिव मामलों में से 58 प्रतिशत से अधिक अकेले महाराष्ट्र में है।

वहीं पिछले 24 घंटों में 118 मौतें हुईं हैं। पिछले 24 घंटों में हुई कोरोना से मौतों में से 82.20 प्रतिशत सिर्फ 6 राज्यों में हैं। ये राज्य हैं- महाराष्ट्र, पंजाब, केरल, तमिलनाडु, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 50 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है। इसके बाद पंजाब में 20, केरल में 15, तमिलनाडु, छत्तीसगढ़ और पश्चिम बंगाल में 4-4 मौतें पिछले 24 घंटों में हुई हैं।

दूसरी ओर भारत में तेजी से कोरोना का टीकाकरण हो रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक आज सुबह 7 बजे तक 2 करोड़ 13 लाख 8 हजार 38 वैक्सीन की खुराक दी गई है।

इनमें 73 लाख 55 हजार 755 हेल्थकेयर वर्करों को पहली खुराक और 43 लाख 5 हजार 118 हेल्थकेयर वर्करों को दूसरी खुराक दी गई है। इसके अलावा 73 लाख 40 हज़ार 423 फ्रंटलाइन वर्करों को पहली खुराक और 11 लाख 50 हज़ार 535 फ्रंटलाइन वर्करों को दूसरी खुराक दी गई है। वहीं 14 लाख 64 हज़ार 14 लाभार्थी, जिनकी उम्र 45 वर्ष से ज्यादा है और गंभीर बीमारी से ग्रसित हैं, उन्हें और 60 साल से ज्यादा उम्र के 82 लाख 92 हज़ार 193 लाभार्थीयों को पहली डोज दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here