Home देश कश्मीर में हमलों के लिए मस्जिदों का दुरुपयोग कर रहे आतंकवादी: आईजी

कश्मीर में हमलों के लिए मस्जिदों का दुरुपयोग कर रहे आतंकवादी: आईजी

15
0

श्रीनगर। कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने सोमवार को कहा कि आतंकवादियों ने पंपोर, सोपोर और शोपियां में हमलों के लिए मस्जिदों का दुरुपयोग किया है। पत्रकारों के साथ बातचीत में उन्होंने बताया कि आतंकवादियों ने 19 जून, 2020 को पंपोर में 1 जुलाई, 2020 को सोपोर और 9 अप्रैल, 2021 को शोपियां में हमलों के लिए मस्जिदों का दुरुपयोग किया। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों द्वारा किए गए इस तरह के कृत्यों की लोगों, मस्जिद इंतजामिया, नागरिक समाज और मीडिया द्वारा निंदा की जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि 9 अप्रैल को शोपियां में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में कुल पांच आतंकवादी मारे गए थे, जहां पर आतंकवादी अपने आप को बचाने के लिए मस्जिद में घुस गये थे। 19 जून, 2020 को पंपोर मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए थे, जो शरण लेने के लिए जामिया मस्जिद में घुसे थे। इसके अलावा 1 जुलाई, 2020 को सोपोर की एक मस्जिद से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की पार्टी पर आतंकवादियों द्वारा गोलीबारी किए जाने के बाद एक जवान और एक नागरिक की मौत हो गई जबकि तीन सुरक्षाकर्मियों को चोटें आईं थी।

आतंकियों के दो मददगार गिरफ्तार, हथियार और गोला-बारूद बरामद

कश्मीर के बारामुला में आतंकियों के दो मददगार गिरफ्तार किए गए हैं। इनके कब्जे से हथियार और गोला-बारूद बरामद हुआ है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पूछताछ जारी है, जिसमें कई बड़े खुलासे होने की संभावना जताई जा रही है। विशिष्ट सूचना के आधार पर पुलिस स्टेशन क्रीरी ने बशीर अहमद भट पुत्र गुलाम मोहम्मद भट निवासी क्रीरी और वसीम अहमद मीर पुत्र अब्दुल गनी मीर निवासी क्रीरी को गिरफ्तार किया। यह दोनों आतंकी गतिविधियों में शामिल होने के लिए युवाओं को उकसाने के साथ ही प्रलोभन दे रहे थे। दोनों को तलाशी अभियान के दौरान गिरफ्तार किया गया। साथ ही कब्जे से दो चीन निर्मित ग्रेनेड, एके-47 राइफल के 20 कारतूस बरामद हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here