Home देश सुशील मोदी ने तेजस्वी पर साधा निशाना, कहा- बीमार और मजबूर पिता...

सुशील मोदी ने तेजस्वी पर साधा निशाना, कहा- बीमार और मजबूर पिता की सेवा के लिए निकालें वक्त

20
0

पटना। बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने गुरुवार को ट्वीट कर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है। लगातार मुख्यमंत्री नीतीश पर हमला बोल रहे तेजस्वी को भाजपा नेता ने ये सलाह दी है कि वो अपने बीमार, बेबस और लाचार पिता लालू प्रसाद यादव को वक्त दें। वहीं, उनकी सेवा के लिए समय निकालें।

किस मजबूरी में आरजेडी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने हुए हैं लालू ?
सुशील मोदी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा, चारा घोटाला के चार मामलों में सजायाफ्ता और कई गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लालू प्रसाद किस मजबूरी में लगभग ढाई दशक से बिहार विधानसभा में मुख्य विपक्षी दल आरजेडी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने हुए हैं? वे कमजोर इतने हो चुके हैं कि चलने के लिए सहारे की जरूरत पड़ती है। उनकी बेबसी यह कि न बड़े पुत्र का घर बसा पाए और न उन्हें पार्टी के सीनियर नेताओं के विरुद्ध अपमानजनक बयानबाजी करने से रोक पाए।

उन्होंने लिखा, जिनके पिता खुद मजबूर, कमजोर और हालात से थक चुके हैं, वे 16 घंटे राज्य की सेवा में तत्पर मुख्यमंत्री पर उल्टे-सीधे आरोप लगा रहे हैं। उन्हें अपने पिता की सेवा के लिए वक्त निकालना चाहिए।

सुशील मोदी ने सदन में तेजस्वी की भूमिका पर सवाल उठाते हुए लिखा कि लालू प्रसाद ने किस मजबूरी में बड़े बेटे की जगह छोटे बेटे को राजनीतिक उत्तराधिकार सौंपा, यह उनका पारिवारिक मामला है, लेकिन जब नेता विपक्ष पिछली विधानसभा से लंबे समय तक गायब रहे और वर्तमान सदन में पहली बार पूछे गए प्रश्न का उत्तर सुनने के लिए भी उपस्थित न रहे, तब उनकी भूमिका पर सवाल उठेंगे ही।

उन्होंने लिखा, सदन को सार्थक विमर्श का मंच बनाना और उसके सुचारु रूप से संचालन में सहयोग करना नेता प्रतिपक्ष का दायित्व है। क्या तेजस्वी यादव अपना दायित्व निभा रहे हैं?

हंगामे की वजह से सदन की कार्यवाही करनी पड़ी स्थगित
गौरतलब है कि बुधवार को बिहार विधानसभा के बजट सत्र की कार्यवाही के दौरान सदन में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। विपक्ष शराबबंदी की विफलता के मुद्दे पर सरकार से जवाब मांग रही थी। वहीं, कानून की विफलता का आरोप मुख्यमंत्री पर लगा रही थी। हंगामे की वजह से सदन की पहली पाली को स्थगित कर दिया गया था। वहीं, दूसरे पाली में भी जब तेजस्वी यादव की मौजूदगी में विपक्ष ने हंगामा शुरू किया तो विधानसभा अध्यक्ष ने इस मुद्दे पर बैठक करने की बात कही, इसके बाद हंगामा शांत हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here