Home खास ख़बरें बिना परीक्षा के पास हो जाएंगे 9वीं, 10वीं और 11वीं के छात्र,...

बिना परीक्षा के पास हो जाएंगे 9वीं, 10वीं और 11वीं के छात्र, तमिलनाडु सरकार ने लिया फैसला

54
0

चेन्नई। कोरोना वायरस महामारी के कारण देशभर में बच्चों की पढ़ाई का काफी नुकसान हुआ है। हालांकि, लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन क्लासेज के जरिए काफी हद तक इस नुकसान की भरपाई की कोशिश की भी गई। कोरोना गाइडलाइंस का पालन करते हुए धीरे-धीरे स्कूलों को फिर से खोला जा रहा है। वहीं, अभिभावकों की चिंताओँ को देखते हुए तमिलनाडु सरकरा ने बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री एडप्पादी पलानीस्वामी ने गुरुवार को कहा कि राज्य सरकार ने बिना परीक्षा दिए बच्चों को पास करने का निर्णय लिया है।
राज्य विधानसभा में मुख्यमंत्री ने कहा, ‘ कोरोना महामारी को देखते हुए कक्षा 9वीं, 10वीं और 11वीं के छात्रों को बिना परीक्षा दिए अगली कक्षा में पदोन्नत करने का फैसला किया है। राज्य में 19 जनवरी से 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल फिर से खोले जा चुके हैं और प्रत्येक कक्षा में 25 से अधिक छात्रों के शामिल होने की अनुमति नहीं है।
वहीं, देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 16,738 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1.10 करोड़ हो गई है। देश में करीब एक महीने बाद एक दिन में 15 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं। इस दौरान 138 और मरीजों की वायरस से मौत हुई है, जिससे मृतक संख्या बढ़कर 1,56,705 हो गई है।
आंकड़ों के अनुसार, 29 जनवरी को एक दिन में 18,855 नए मामले सामने आए थे और इसके बाद से प्रतिदिन लगातार 15 हजार से कम नए मामले सामने आ रहे थे। वहीं, करीब 26 दिन बाद एक दिन में 130 से अधिक लोगों की वायरस से मौत हुई है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, देश में 24 फरवरी तक 21,38,29,658 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की जा चुकी है। इनमें से 7,93,383 नमूनों की जांच बुधवार को की गई थी।

Previous articleदोबारा न बढ़े कोरोना संक्रमण, यूपी में फिर से सख्ती, दूसरे राज्यों से आने वाले 14 दिन होंगे क्वारंटाइन
Next articleभारत लाया जाएगा नीरव मोदी, लंदन की कोर्ट ने भगोड़े के प्रत्यर्पण को दी मंजूरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here