Home » पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा, अतीक को 9 और अशरफ को मारी गई थी 5 गोलियां

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा, अतीक को 9 और अशरफ को मारी गई थी 5 गोलियां

  • प्रयागराज मेडिकल कॉलेज के बाहर कैमरों के सामने हुई अतीक और उसके भाई अशरफ की हत्या के बाद चौंकाने वाला खुलासा हुआ है।
    प्रयागराज ।
    उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में मेडिकल कॉलेज के बाहर शनिवार रात कैमरे के सामने हुई माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की हत्या के मामले में एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। दोनों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है। रिपोर्ट में पाया है कि अतीक को नौ गोलियां लगी थीं, जिनमें से एक गोली उसके सिर में लगी थी। पोस्टमॉर्टम के दौरान माफिया अतीक के शरीर में नौ गोलियों के निशान पाए गए, जबकि उसके भाई अशरफ अहमद के शरीर से पांच गोलियां बरामद की गई हैं। डॉक्टरों की जांच में सामने आया है कि एक गोली अतीक के सिर में लगी, जबकि आठ गोलियां उसकी छाती और पीठ में मारी गईं। अतीक और अशरफ की हत्या का लाइव वीडियो कैमरों में कैद हो गया था।
    अशरफ को लगी पांच गोलियां
    पोस्टमॉर्टम के अनुसार अशरफ के शरीर से पांच गोलियां (एक चेहरे और चार पीठ) पाई गई हैं। बताया गया है कि पांच डॉक्टरों की टीम ने वीडियोग्राफी के साथ दोनों के शवों का पोस्टमार्टम किया था। बता दें कि पूर्व सांसद और पांच बार के विधायक अतीक पर करीब 95 मुकदमे दर्ज थे। इनमें वर्ष 2005 में बसपा विधायक राजू पाल की हत्या और फिर इस हत्याकांड के मुख्य गवाह उमेश पाल की हत्या भी शामिल है।
    राजू पाल और उमेश पाल की हत्या का था आरोप
    जानकारी के अनुसार, बसपा विधायक राजू पाल की हत्या के मुख्य आरोपी अतीक को उमेश पाल की हत्या में भी आरोपी बनाया गया था। वर्ष 2019 से अतीक अहमद गुजरात की साबरमती जेल में बंद था। इससे वह अतीक यूपी की देवरिया जेल में था, जहां उस पर एक कारोबारी के अपहरण का आरोप लगा था। बताया जाता है कि इसके बाद ही अतीक को साबरमती जेल भेजा गया था।
    28 मार्च को अतीक को हुई थी उम्रकैद की सजा
    इसी साल 25 मार्च को अतीक अहमद को उमेश पाल अपहरण कांड में साबरमती से प्रयागराज लाया गया था। 28 मार्च को प्रयागराज की एमपी-एमएलए कोर्ट ने अतीक समेत तीन लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। जबकि बरेली जेल से लाए गए अशरफ समेत सात लोगों को कोर्ट ने बरी कर दिया था। कोर्ट से सजा सुनाए जाने के बाद अतीक को वापस साबरमती जेल भेजा गया था।
    13 अप्रैल को झांसी में मारा गया था असद और शूटर गुलाम
    24 फरवरी को प्रयागराज में हुए उमेश पाल हत्या कांड के बाद पुलिस ने आरोपियों की धरपकड़ शुरू की। इसी क्रम में 13 अप्रैल को अतीक के 19 वर्षीय बेटे असद को झांसी में यूपी एसटीएफ ने एनकाउंटर में मार गिराया। उसके साथ शूटर गुलाम को ढेर किया गया था। इसी बीच शनिवार को अस्पताल ले जाते समय अतीक और अशरफ की भी गोलियों से भून कर हत्या कर दी गई।

Related News

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd