पुणे में देश का पहला “मानव ड्रोन” बनकर तैयार, 130 किलोग्राम वजन के साथ 35 किमी तक उड़ने की क्षमता

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

पुणे । मानव रहित ड्रोन तो बहुत हैं, लेकिन अब इंसान को ले जाने वाला ड्रोन भी आ गया है. जी हां, अब ड्रोन की मदद से आप एक जगह से दूसरी जगह जा सकते हैं. देश के पहले मानव ड्रोन का परीक्षण प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में देखा था. इस ड्रोन को पुणे के चाकन में सागर डिफेंस इंजीनियरिंग कंपनी ने बनाया है. इसे बनाने में चार साल से अधिक का समय लगा है. काफी मेहनत के बाद ये ड्रोन बनकर तैयार हुआ है. इस ड्रोन को भारतीय सेना के लिए तैयार किया गया है। फिलहाल भारतीय सेना के लिए तैयार इस ड्रोन की क्षमता 130 किलो वजन के साथ उड़ान भरने की है. कंपनी के सह संस्थापक रितुल बब्बर ने इस ड्रोन के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि ड्रोन का इस्तेमाल “दूर-दराज़” के इलाकों में एयर एंबुलेंस या फिर सामान ट्रांसपोर्ट के लिए किया जा सकता है। ये ड्रोन 130 किलो वजन उठाने की क्षमता रखता है और 30 से 35 किमी तक का सफर तय कर सकता है. इतना ही नहीं इस ड्रोन में हवा में तकनीकी खराबी के बाद सुरक्षित लैंडिंग करने की सक्षम भी है. ड्रोन पर एक पैराशूट लगाया गया है. जो कि आपात स्थिति में खुल जाता है और ड्रोन सुरक्षित जमीन पर उतर जाता है. यानी ये ड्रोन पूरी तरह से सुरक्षित है और उड़ान भरते हुए डरने की जरूरत नहीं है. इस ड्रोन के कुछ ही दिनों में भारतीय सेना में शामिल होने की उम्मीद है।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News