PresidentElection2022 ; राष्ट्रपति के लिए किसे मिला किस दल का समर्थंन

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp
Presidential polls 2022: Draupadi Murmu vs Yashwant Sinha, who stands where  in race to Raisina? | India News | Zee News

स्वदेश डेस्क [ रौशन ] भोपाल ; सोमवार को यशवंत सिन्हा विपक्ष के कई नेताओं के साथ नामांकन करने पहुंचे। इसके दो दिन पहले द्रौपदी मुर्मू ने एनडीए के नेताओं के साथ नामांकन किया था।इनके अलावा 54 अन्य लोगों ने भी नामांकन किया है। हालांकि, पर्याप्त प्रस्तावक नहीं होने के कारण 54 अन्य उम्मीदवारों के नामांकन खारिज हो सकते हैं। यानी, मुकाबला द्रौपदी मुर्मू और यशवंत सिन्हा के बीच है। दोनों उम्मीदवारों को किस-किस पार्टी का समर्थन अब तक मिल चुका है? वो कौन सी पार्टियां हैं जिन्होंने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं? आइये जानते हैं…

President Election 2022 draupadi murmu can be the next president of india  she will get more than 5 lakh votes | President Election 2022: द्रौपदी  मुर्मू का राष्ट्रपति बनना तय, 5.5 लाख

द्रौपदी मुर्मू को पार्टी ने दिया समर्थन
24 जून को एनडीए की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ने नामांकन किया था। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत भाजपा के कई दिग्गज नेता मौजूद रहे। भाजपा शासित कई राज्यों के मुख्यमंत्री भी रहे। इसके अलावा द्रौपदी को बीजेडी, वाईएसआर कांग्रेस, जेडीयू, एआईएडीएमके, लोक जन शक्ति पार्टी, अपना दल (सोनेलाल), निषाद पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (अठावले), एनपीपी, एनपीएफ, एमएनएफ, एनडीपीपी, एसकेएम, एजीपी, पीएमके, एआईएनआर कांग्रेस, जननायक जनता पार्टी, यूडीपी, आईपीएफटी, यूपीपीएल जैसी पार्टियों ने समर्थन दे दिया है। विपक्ष में होने के बाद भी बीजेडी, वाईएसआर कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी ने एनडीए की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को समर्थन दिया है।

ये भी पढ़ें:  कोविड संक्रमितों में दो साल तक मानसिक रोगों का खतरा, रहें सावधान
Presidential Election 2022: Chief Minister KCR's Party Backs Yashwant Sinha  For President
FILE PHOTO

यशवंत सिन्हा के पक्ष में पार्टियां
यशवंत सिन्हा ने सोमवार को नामांकन दाखिल किया। इस दौरान उनके साथ कांग्रेस नेता राहुल गांधी, एनसीपी प्रमुख शरद पवार, टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी समेत कई दिग्गज नेता रहे। यशवंत को भी विपक्ष के कई दलों से समर्थन मिला है। इनमें कांग्रेस, एनसीपी, टीएमसी, सीपीआई, सीपीआई (एम) समाजवादी पार्टी, रालोद, आरएसपी, टीआरएस, डीएमके, नेशनल कांफ्रेंस, भाकपा, आरजेडी जैसे दल शामिल हैं।

सभी लोग एकजुट होकर करें काम तो भारत को बना सकते हैं नंबर वन', अयोध्या में  बोले दिल्ली CM केजरीवाल - Arvind Kejriwal in Ayodhya says Working unitedly  can make India number
FILE PHOTO

इन दलों की अभी तक स्थिति साफ नहीं
पंजाब और दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार है। 10 राज्यसभा सांसद भी हैं। अभी तक आम आदमी पार्टी ने राष्ट्रपति चुनाव को लेकर कुछ साफ नहीं किया है। इसके अलावा टीडीपी, झामुमो, शिरोमणि अकाली दल ने अब तक स्थिति साफ नहीं की है। शिवसेना में भी आंतरिक कलह के चलते अब तक किसी भी उम्मीदवार के समर्थन का एलान नहीं हुआ है। कहा जा रहा है कि शिवसेना के ज्यादातर सांसद और विधायक एनडीए के उम्मीदवार को ही सपोर्ट करना चाहते हैं।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News