Home देश अब एक और सप्ताह के लिए थम गए मेट्रो के पहिए, लॉकडाउन...

अब एक और सप्ताह के लिए थम गए मेट्रो के पहिए, लॉकडाउन बढ़ा तो मेट्रो बंद

14
0

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में कोरोनावायरस संक्रमण के मामले भले ही कम हो गए हो मगर सीएम अरविंद केजरीवाल ने अभी लॉकडाउन को खत्म करना ठीक नहीं समझा है। इसी वजह से अब इसे एक और सप्ताह के लिए आगे बढ़ा दिया गया है।

इस वजह से फिलहाल दिल्ली मेट्रो के पहिए भी एक और सप्ताह तक के लिए थम गए हैं। दिल्ली मेट्रो की सेवाएं एक और सप्ताह तक नहीं मिल पाएंगी। यदि दिल्ली सरकार 31 मई को लॉकडाउन खत्म करने की घोषणा करती है उसके बाद ही दिल्ली मेट्रो अपनी सेवाएं आम लोगों के लिए शुरू कर पाएगी। इस बीच दिल्ली मेट्रो अपनी लाइनों की मरम्मत जैसे काम करती रहेगी मगर आम लोगों को उसकी सेवाएं फिलहाल नहीं मिल पाएंगी।

दरअसल दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में लगातार गिरावट आ रही है, संक्रमण दर तो 5 फीसद से भी नीचे आ गई है। ऐसे में लोग कयास लगा रहे थे कि 24 मई यानि सोमवार से लॉकडाउन खत्म हो जाएगा और वो मेट्रो में सफर कर पाएंगे मगर अब उनको एक और सप्ताह तक इसका इंतजार करना होगा। सीएम अरविंद केजरीवाल ने आगामी 31 मई तक शहर में लॉकडाउन बढ़ा दिया है। इसके तहत दिल्ली में मेट्रो का परिचालन भी 31 मई की सुबह 5 बजे तक बंद रहेगा।


दिल्ली मेट्रो को लेकर लोगों की राय है कि इसका संचालन जल्द से जल्द शुरू होना चाहिए। खासकर स्वास्थ्यकर्मियों और जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों की मांग है कि दिल्ली मेट्रो शुरू होनी चाहिए, जिससे उन्हें सफर में आसानी हो।

जनहित के मद्देनजर 31 मई से लॉकडाउन को खत्म कर कुछ पाबंदियों के साथ दिल्ली में हालात काबू करने की फिर से शुरुआत होगी। दिल्ली मेट्रो का परिचालन बंद होने से दिल्ली के अलावा, गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल के अलावा नोएडा-ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद के लोग भी परेशान हैं।


बता दें कि दिल्ली-एनसीआर के लाखों लोगों की लाइफलाइन दिल्ली मेट्रो के संचालन से आधा दर्जन शहरों के लोगों का आवागमन आसान हो जाएगा। दरअसल, दिल्ली मेट्रो अपनी सेवाओं के संचालन दिल्ली के अलावा फरीदाबाद, गाजियाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गुरुग्राम तक करता है। कोलकाता मेट्रो के बाद यह भारत की दूसरी सबसे पुरानी मेट्रो है। दिल्ली मेट्रो के एनसीआर में 200 से ज्यादा स्टेशन और 400 किलोमीटर के करीब ट्रैक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here