Home देश ठीक एक साल पहले देश में लगा था लॉकडाउन, लोगों पर टूटा...

ठीक एक साल पहले देश में लगा था लॉकडाउन, लोगों पर टूटा था मुसीबतों का पहाड़

39
0

लॉकडाउन का एक साल: देश को जानलेवा कोरोना वायरस के प्रकोप से बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज से ठीक एक साल पहले रात 8 बजे देश में लॉकडाउन का एलान किया था। उस वक्त कोरोना ने देश पर ऐसा कहर बरपाया कि सब कुछ बंद हो गया। रेल, हवाईजहाज, बसें, कारखाने, दुकानें और हजारों कंपनियां समेत लगभग सभी जरूरी साधनों को बंद करना पड़ा और लोग घरों में कैद हो गए थे। यानी एक चलता फिरता भारत, सुखी भारत, दनदनाता भारत, कुछ दिनों में ही पूरी तरह से ठप सा हो गया।
22 मार्च को लगा था जनता कर्फ्यू
इससे पहले कोरोना वायरस के प्रकोप को भांपते हुए पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन दिया और जनता से अपील की कि वह 22 मार्च रविवार को सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक जनता कर्फ्यू लगाए। ताकि कोरोना वायरस की कड़ी को तोड़ा जा सके। देश ने अपने पीएम की बात मानी और पूरे देश में बाजार-कंपनियां बंद हो गई। यातायात रुक गया और सड़के खाली हो गईं।
30 जनवरी 2021 को आया था पहला केस
भारत में कोरोना वायरस का पहला केस 30 जनवरी 2020 को आया। दक्षिण राज्य केरल में चीन के वुहान प्रांत से लौटीं एक महिला कोरोना वायरस पॉजिटिव पाई गई। इसके बाद देश में हर रोज केस बढ़ते गए। कोरोना वायरस ने लोगों के रहने सहने के तरीके में बहुत बदलाव ला दिया है। आज एक साल बाद भी भले ही देश लॉकडाउन से आजाद हो गया हो, लेकिन अभी भी कोरोना का खतरा बरकार है। मार्च में केस फिर से बढऩे लगे हैं। देश में संक्रमण की दूसरी लहर चल रही है, जो बेहद खतरनाक है।
आज देश में कोरोना की क्या स्थिति है?
कुल मामले- एक करोड़ 16 लाख 86 हजार 796
कुल डिस्चार्ज- एक करोड़ 11 लाख 81 हजार 253
कुल एक्टिव केस- तीन लाख 45 हजार 377
कुल मौत- एक लाख 60 हजार 166
कुल टीकाकरण- 4 करोड़ 84 लाख 94 हजार 594 डोज दी गई हैं।

Previous articleसचिन वाजे से जुड़ा एक और खुलासा, फाइव स्टार होटल में 100 रातों के लिए बुक किया था कमरा
Next articleछत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने किया IED विस्फोट, 3 जवान शहीद; कई घायल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here