Home देश कोरोना के खिलाफ प्रशासन ने कसी कमर, पर्यटकों के लिए अनिवार्य हुई...

कोरोना के खिलाफ प्रशासन ने कसी कमर, पर्यटकों के लिए अनिवार्य हुई टेस्टिंग

6
0

जम्मू: देशभर में करोना दोबारा तेजी से अपने पांव पसार रहा है और इस महामारी को रोकने के लिए कई राज्यों ने नए प्रोटोकॉल्स भी जारी कर दिए हैं। करोना के दोबारा बढ़ते प्रकोप को देखते हुए जम्मू-कश्मीर सरकार ने प्रदेश में आने वाले हर यात्री की टेस्टिंग को अनिवार्य कर दिया है। महाराष्ट्र और पंजाब समेत देश के कई अन्य राज्यों में तेजी से फैल रहे करोना को देखते हुए जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने भी कमर कस ली है। जम्मू कश्मीर में कोरोना के इस बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए प्रशासन ने प्रदेश में आने वाले हर यात्री की टेस्टिंग को अनिवार्य कर दिया है। जम्मू कश्मीर सरकार ने जम्मू एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन पर कई टीमों को तैनात कर दिया है ताकि हर यात्री की रैपिड एंटीजन टेस्टिंग को सुनिश्चित किया जा सके। जम्मू के रेलवे स्टेशन पर करीब एक दर्जन टीमें तैनात कर दी है, ताकि यहां देश भर से पहुंचने वाले यात्रियों की टेस्टिंग की जा सके। वहीं, जम्मू-कश्मीर सरकार द्वारा उठाए गए इस कदम से यात्री भी काफी खुश हैं। देश भर से इन दिनों जम्मू न केवल माता वैष्णो देवी के यात्री पहुंच रहे हैं बल्कि कश्मीर घूमने के मकसद से कई पर्यटक जम्मू का रुख कर रहे हैं। इन पर्यटक का दावा है कि जम्मू-कश्मीर सरकार जिस तरह से कोरोना को रोकने के लिए कदम उठा रही हैं, वह सराहनीय है और यहां पहुंच रहे यात्रियों और पर्यटकों की सुरक्षा को सुनिश्चित करते हैं। जम्मू कश्मीर सरकार का दावा है कि जल्द ही अब इस टेस्टिंग का दायरा बसों से जम्मू कश्मीर पहुंच रहे यात्रियों तक बढ़ाया जाएगा।
जम्मू-कश्मीर में कोविड-19 के 132 नए मामले
जम्मू-कश्मीर में कोविड-19 के 132 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें 28 यात्री शामिल हैं। इसके साथ ही केंद्रशासित प्रदेश में अब तक संक्रमित लोगों की कुल संख्या 1,28,679 हो गई है। पिछले 24 घंटे में संक्रमण से किसी मरीज की मौत नहीं हुई। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि केंद्रशासित प्रदेश के जम्मू संभाग में 28 जबकि कश्मीर संभाग में 104 नए मामले सामने आए हैं। श्रीनगर में सबसे ज्यादा 77 मामले सामने आए, जिनमें से 16 यात्री हैं। वहीं, जम्मू जिले में 25 नए मामले सामने आए। पिछले सप्ताह से कोविड-19 का उपचार करा रहे मरीजों की संख्या बढ़ी है। यहां अब 1,336 मरीजों का उपचार चल रहा है और अब तक कुल 1,25,362 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here