Home देश दिल्ली में ढाबा चलाने वाले ने किया ढाई करोड़ से ज्यादा का...

दिल्ली में ढाबा चलाने वाले ने किया ढाई करोड़ से ज्यादा का खेल

26
0

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने अफगानी नागरिक से ठगी में एक शख्स को गिरफ्तार किया है। दिल्ली के मुस्तफाबाद निवासी आरोपित गुलाम हसन उर्फ सरकार (62) ने बिकवाने के नाम पर अफगानी से पन्ना रत्न ले लिए। लेकिन, बाद में उसने ना तो पन्ना लौटाया और ना ही उसके बदले रुपये दिए। उसने विदेशी नागरिक के 2.73 करोड़ रुपये हड़प लिए।
ईओडब्ल्यू के संयुक्त पुलिस आयुक्त डाॅॅ. ओ.पी. मिश्रा ने बताया कि अफगानी नागरिक सैयद शाह आगा ने ठगी किए जाने की शिकायत पुलिस में की थी। शिकायतकर्ता ने बताया कि उनका अफगानिस्तान में पन्ना रत्न का कारोबार है। एक व्यक्ति के निमंत्रण पर वे रत्न बेचने जुलाई 2019 में भारत आए थे। किसी कारण से वह उसे पन्ना नहीं बेच सके। इस दौरान सैयद जामा मस्जिद इलाके में रह रहे थे।
इसी बीच वह गुलाम हसन के संपर्क में आए। उसने उन्हें पन्ना बिकवाने का आश्वासन दिया। सैयद शाह विश्वास कर गुलाम हसन को 1940 कैरेट और 2210 कैरेट का पन्ना दे दिया। पन्ना बिक जाने की बात बता आरोपित ने उन्हें सिर्फ 21 लाख रुपये दिए। बची हुई रकम उसने कुछ दिनों में देने का आश्वासन दिया। लेकिन, बाद में जब पीड़ित ने बकाया 2.73 करोड़ रुपये गुलाम से मांगे तो वह अनाकानी करने लगा।
जिसके बाद रुपये लेने के लिए उन्होंने जयपुर में गत वर्ष फरवरी महीने में आरोपित के साथ बैठक की। बैठक में गुलाम ने उन्हें जल्द पन्ना अथवा रुपये वापस करने संबंधी लिखित आश्वासन भी दिया। लेकिन, दोबारा वह अपने वादे से मुकर गया। पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू की। पुलिस ने जयपुर में पीड़ित और आरोपित के बीच हुए लिखित दस्तावेज की जांच की।
वहीं, बैठक में शामिल मीर मोहम्मद राजा और अली तकवी और अकरम हुसैन जैसे गवाहों से पूछताछ की गई। ठगी साबित होने पर पुलिस ने 25 फरवरी को गुलाम हसन को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता चला कि मूल रूप से कश्मीर का रहने वाला आरोपित गत 40 वर्ष से दिल्ली में रह रहा है। वह जामा मस्जिद इलाके में ढाबा चलाता है। योजना के मुताबिक वह पीड़ित से पन्ना ले रुपये देने में देरी करता रहा ताकि बगैर रुपये लिए पीड़ित वापस अफगानिस्तान चला जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here