Home खास ख़बरें 17 की रात से इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट के टर्मिनल-2 से...

17 की रात से इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट के टर्मिनल-2 से नहीं उड़ेंगी फ्लाइट्स, महामारी के बाद 30 हजार रेगुलर यात्री कम हुए

24
0

नई दिल्ली, कोरोना महामारी का असर अब फ्लाइट्स और एयरपोर्ट के संचालन पर भी दिखने लगा है। देश में कोरोना संक्रमण बढ़ने के बाद हवाई सफर करने वाले लोगों की संख्या में कमी आई है। इसके चलते दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट के टर्मिनल-2 (T2) को 17 मई रात 12 बजे से अस्थायी तौर पर बंद किया जा रहा है। इससे एयरपोर्ट अथॉरिटी को अपना स्टाफ कम करने में भी सहूलियत होगी। इस एयरपोर्ट से यात्रा करने वाले यात्रियों की संख्या प्रतिदिन 30,000 तक घट गई है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देशभर में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या 2.2 लाख से घटकर 75,000 प्रतिदिन रह गई है।
टर्मिनल-3 में शिफ्ट होगी उड़ान
दिल्ली इंटरनेशल एयरपोर्ट लिमिटेड ने बताया कि फिलहाल टर्मिनल-2 से इंडिगो एयरलाइंस और गोएयर की फ्लाइट्स का ही संचालन हो रहा था। इन्हें अब टर्मिनल-3 (T3) में शिफ्ट किया जाएगा। कोरोना के कारण कई देशों ने भारत से आने वाली फ्लाइट्स पर रोक लगा दी है। इससे यात्रियों की संख्या भी घट गई है। फ्लाइट्स का लोड टर्मिनल-3 से ही कंट्रोल किया जा सकता है। IGI एयरपोर्ट से अभी रोजाना करीब 325 फ्लाइट्स उड़ान भर रही हैं। कोरोना महामारी आने से पहले यहां से प्रतिदिन 1500 फ्लाइट उड़ान भरती थीं।
31 मई तक इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर प्रतिबंध
इससे पहले उड्डयन मंत्रालय ने 30 अप्रैल को इंटरनेशनल कमर्शियल फ्लाइट्स पर प्रतिबंध 31 मई 2021 तक बढ़ा दिया था। आदेश में कहा गया था कि यह प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय ऑल-कार्गो ऑपरेशन और उड़ानों पर लागू नहीं किया जाएगा। इन्हें विशेष रूप से डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने अप्रूव किया था।
जयपुर से चालू होने वाली 20 फ्लाइट कैंसिल
मई में जयपुर से 20 नई फ्लाइट शुरू करने का प्रस्ताव था, जो कोरोना महामारी के कारण अटक चुका है। इनमें से 15 फ्लाइट 1 मई से जबकि 5 फ्लाइट अलग-अलग दिनों में शुरू होनी थीं। ये फ्लाइट 15 नए शहरों के लिए शुरू होने जा रही थीं। इसके अलावा आधा दर्जन ऐसे शहरों के लिए भी फ्लाइट शुरू होनी प्रस्तावित थी, जिनके लिए पहले से फ्लाइट चल रही हैं। नए शहरों में राजकोट, नागपुर, पटना और बागडोगरा ऐसे शहर हैं, जिनके लिए जयपुर से पहले कभी हवाई सेवाएं संचालित नहीं हुई। धर्मशाला और वडोदरा के लिए भी पहली सीधी फ्लाइट शुरू होना प्रस्तावित थी। इसके अलावा कोरोना केस बढ़ने से पिछले 1 माह में जयपुर से उड़ान भरने वाली 4 फ्लाइट भी बंद हो चुकी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here