Home खास ख़बरें मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिली संदिग्ध कार, 20 जिलेटिन की...

मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिली संदिग्ध कार, 20 जिलेटिन की छड़ें बरामद, मचा हड़कंप

178
0

मुंबई। देश के प्रमुख उद्योगपति मुकेश अंबानी के मुंबई स्थित घर एंटीलिया के पास संदिग्ध वाहन में जिलेटिन की छड़े मिलने से हड़कंप मच गया। इधर, घटना के बाद मुकेश अंबानी के घर के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी गई है। गामदेवी पुलिस स्टेशन की सीमा पर गुरुवार को एक संदिग्ध वाहन मिला है। घटना की जानकारी मिलते ही बम डिटेक्शन एंड डिस्पोजल स्क्वाड टीम और अन्य पुलिस दल मौके पर पहुंचे। जांच-पड़ताल के दौरान वाहन से जिलेटिन की 20 छड़ें बरामद की गई हैं। यह जानकारी मुंबई पुलिस के पीआरओ ने दी। पुलिस मामले की जांच कर रही है। सूत्रों के मुताबिक, जिस स्थान पर विस्फोटक सामग्री मिली है, उसी के नजदीक मुकेश अंबानी का घर है।
क्राइम ब्रांच कर रही है मामले की जांचः अनिल देशमुख
महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के मुताबिक, मुंबई में मुकेश अंबानी के आवास के पास कार से जिलेटिन की छड़ें मिली हैं। मुंबई पुलिस की अपराध शाखा पूरे मामले की जांच कर रही है। अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। इस मामले के हर पहलू की जांच की जा रही है।
जानें, क्या होता है जिलेटिन
जिलेटिन एक विस्फोटक है। ये नाइट्रोसेल्यूलोज या गन कॉटन है, जिसे नाइट्रोग्लिसरीन या नाइट्रोग्लायकोल में तोड़कर इसमें लकड़ी की लुगदी या शोरा मिलाया जाता है। यह धीरे-धीरे जलता है पर बिना डेटोनेटर्स के विस्फोट नहीं कर सकता।
कैसे होता है इस्तेमाल
जिलेटिन से बनी छड़ों का उपयोग गिट्टी क्रशर पर चट्टानों को तोड़ने के लिए किया जाता है। पहाड़ों को तोड़ने के लिए भी विस्फोटक के तौर पर इसका इस्तेमाल किया जाता है।
क्या होता है डेटोनेटर
डेटोनेटर की मदद से बम को सक्रिय किया जाता है। सामान्य भाषा में इसे बम का ट्रिगर भी कह सकते हैं। इसका इस्तेमाल गड्ढा खोदकर छुपाए गए बमों आईईडी (इम्प्रोवाइज एक्सप्लोजिव डिवाइसेस) में किया जाता है। डेटोनेटर से बम की विस्फोटक क्षमता बढ़ जाती है। नक्सली आमतौर पर ऐसे ही बमों का उपयोग करते हैं।

Previous articleएमपी के 12 जिलों में कोरोना पर सख्ती, कल रात से भोपाल, इंदौर समेत महाराष्ट्र से लगे छिंदवाड़ा, बैतूल, खरगोन, धार और बड़वानी में नाइट कर्फ्यू की तैयारी
Next articleभारत बंद का दिख रहा मिलाजुला असर, कई व्यापारी संगठनों ने बनाई दूरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here