Home देश मुंबई में मुकेश अंबानी के घर के पास मिली विस्फोटक रखी कार...

मुंबई में मुकेश अंबानी के घर के पास मिली विस्फोटक रखी कार के मालिक की हुई पहचान

19
0

मुंबई। उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के पास गुरुवार को विस्फोटकों के साथ मिली कार के असली मालिक की पहचान कर ली गई है। शुक्रवार को मुंबई पुलिस ने बताया कि कार कुछ समय पहले मुंबई के विक्रोली इलाके से चुराई गई थी। पुलिस ने उसके असली मालिक की पहचान करने में कामयाब रही। हालांकि मुकेश अंबानी के घर के पास कार खड़ी करने वाले संदिग्ध को सीसीटीवी फुटेज में देखा गया था, लेकिन उसकी पहचान नहीं हुई है, क्योंकि उसने एक फेस मास्क पहन रखा था और उसका सिर ढका था। मुंबई के पुलिस पीआरओ एस चैतन्य ने कहा कि वाहन में कुछ मात्रा में जिलेटिन पाया गया। वाहन को पुलिस ने जब्त कर लिया। भारतीय दंड न्यायालय और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के संबंधित धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया गया। वाहन में एक पत्र मिला, लेकिन जांच प्रारंभिक चरण में है हम सामग्री साझा नहीं कर सकते।
पुलिस ने कहा कि उन्होंने कई स्थानों से सीसीटीवी फुटेज हासिल किए हैं, जहां से कार मुंबई में गुजरी है। उन्होंने यह भी कहा कि जिलेटिन जो कार में पाया गया था वह सैन्य-ग्रेड नहीं था लेकिन वाणिज्यिक-ग्रेड था जो आमतौर पर निर्माण से संबंधित खुदाई में उपयोग किया जाता है। भारतीय जनता पार्टी के नेता किरीट सोमैया द्वारा मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधने के बाद वीरवार को हुई घटना के बाद राजनीति गरमा गई। सोमैया ने कहा कि जिस तरह से कार को पाया गया, वह मुंबई पुलिस की दयनीय विफलता को दर्शाता है कि इस तरह के वाहन शहर के एक महत्वपूर्ण स्थान पर कैसे छोड़ दिए जाते हैं।
स्कार्पियो से मिलीं जिलेटिन की 20 छड़ें
देश के प्रमुख उद्योगपति, रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक मुकेश अंबानी के घर अंटीलिया के नजदीक संदिग्ध परिस्थितियों में एक कार पाई गई है। कार में जिलेटिन की 20 छड़ें मिली थीं। गुरुवार शाम को दक्षिण मुंबई के पैडर रोड इलाके में स्थित अंटीलिया इमारत से करीब 200 मीटर दूर संदिग्ध हालात में एक कार खड़ी दिखाई दी। काफी देर से कार खड़ी देख मुकेश अंबानी के घर के सुरक्षाकर्मियों ने पुलिस को सूचित किया। जल्दी ही स्थानीय पुलिस के अलावा स्निफर डाग स्क्वायड, बम निरोधक दस्ता एवं आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) की टीम भी मौके पर पहुंच गई। बम डिटेक्शन व डिस्पोजल स्क्वायड ने गाड़ी का दरवाजा खोलकर जांच शुरू की तो उसे गाड़ी में जिलेटिन की 20 छड़ें प्राप्त हुईं। जिलेटिन विस्फोट के काम में लाया जाता है। महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने भी इस बात की पुष्टि की है कि अंबानी के घर के नजदीक एक स्कार्पियो कार में जिलेटिन की 20 छड़ें पाई गई हैं।
मुंबई में हाजी अली और महालक्ष्मी मंदिर चौराहे से गिरगांव चौपाटी की ओर जाने वाला व्यस्ततम मार्ग पैडर रोड के नाम से जाना जाता है। इस रोड से अंदर गई कार्मिकेल रोड पर मुकेश अंबानी की बहुमंजिला आवास ‘अंटीलिया’ है। इस इमारत में दो गेट हैं जहां बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी मौजूद रहते हैं। संभवत: इसीलिए कार खड़ी करने वाले ने इमारत के गेट से करीब 200 मीटर की दूरी पर यह कार खड़ी की थी, ताकि वह अंटीलिया के सुरक्षाकर्मियों की निगाह में आने से बच सके। सुरक्षाकर्मियों को कार पर शक इसलिए हुआ क्योंकि उसका नंबर मुकेश अंबानी के सुरक्षा काफिले में चलने वाली कारों के नंबर से मिलता-जुलता था। लेकिन वह कार उनके सुरक्षा काफिले की नहीं थी। हालांकि यह इमारत गांवदेवी पुलिस थाने के अंतर्गत आती है, लेकिन इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच ने अपने हाथ में ले ली है।
मुकेश अंबानी को सरकार की तरफ से जेड श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है। इसके अलावा उन्होंने अपनी और अपने घर की सुरक्षा के लिए निजी सुरक्षाकर्मियों की भी एक बड़ी टीम तैयार कर रखी है। कुछ दिनों पहले ही उनके सुरक्षा काफिले में चलने के लिए तैयार की गई बाइकर्स की टीम चर्चा में आई थी। बुलेट मोटरसाइकिल पर चलने वाले इस दस्ते को विशेष रूप से सुसज्जित किया गया है। एक अनुमान के मुताबिक, मुकेश अंबानी की सुरक्षा पर प्रतिमाह 20 लाख रुपये से अधिक खर्च किए जाते हैं। इसके बावजूद उनकी इमारत के नजदीक विस्फोटक से लदी कार मिलने से मुंबई पुलिस की चिंता बढ़ गई है। पुलिस इस घटना की आतंकी एंगल से भी जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here