Home » राहुल गांधी से मंत्री स्मृति का सवाल- भारत के बाहर जाकर लोकतंत्र के खिलाफ खड़े होना कैसी मोहब्बत?

राहुल गांधी से मंत्री स्मृति का सवाल- भारत के बाहर जाकर लोकतंत्र के खिलाफ खड़े होना कैसी मोहब्बत?

भाजपा ने कांग्रेस की मोहब्बत की दुकान को आड़े हाथों लिया। कांग्रेस के मोहब्बत की दुकान की जगह नफरत की सूचियां गिनाई। भाजपा ने कहा कि कांग्रेस ने तो अपनों को नहीं बख्शा, फिर परायों को किस दुकान की लालच दिखा रहे हैं।
केंद्रीय महिला व बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पर आक्रमण की धार और तेज कर दी। उन्होंने गांधी परिवार के मुस्लिम प्रेम पर भी सवाल उठाया। उनके निशाने पर अमेरिका दौरे पर गए राहुल गांधी रहे। स्मृति ने पूछा कि भारत के बाहर जाकर अपने ही लोकतंत्र के खिलाफ खड़े होना कैसी मोहब्बत है?
केंद्रीय मंत्री ने भाजपा मुख्यालय में मोदी सरकार के 9 वर्ष की उपलब्धियां गिनाई। उन्होंने अपने मंत्रालय द्वारा पिछले नौ साल के दौरान शुरू की गई विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं और सरकार की उपलब्धियों की जानकारी दी। साथ ही मोदी सरकार द्वारा महिलाओं के कल्याण और उनकी सुरक्षा के लिए किए गए कार्यों का भी ब्यौरा दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की हर आंगनवाड़ी को स्मार्ट फोन से जोड़ा है। अब तक 11 लाख स्मार्ट फोन वितरित किए जा चुके हैं। सरकार ने पोषण ट्रैकर नामक एक व्यवस्था स्थापित की है। जिसके चलते 9 करोड़ से अधिक लाभार्थी योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं। उन्होंने पूर्ववर्ती कांग्रेस नेतृत्व की सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि खुद को घोषणाओं तक सीमित रखने वाली कांग्रेस सरकार ने, महिला सुरक्षा के लिए एक भी ऑपरेशनल प्रोजेक्ट नहीं किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का नेतृत्व हमारे देश के लोकतंत्र पर चोट करने के लिए बाहरी ताकतों का इस्तेमाल कर रहा है। जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आता जा रहा है, वैसे-वैसे कांग्रेस के नेताओं की इस प्रकार की गतिविधियों का बढ़ना अपने आप में इस बात का संकेत है कि कांग्रेस सत्ता की भूख में अपने ही देश की लोकतांत्रिक प्रणाली पर चोट करने को आमादा है।
कांग्रेस के मुस्लिम प्रेम की खोली पोल
स्मृति ईरानी ने आंकड़े बता कांग्रेस के मुस्लिम प्रेम की पोल खोली। उन्होंने कहा कि गांधी खानदान अपने आपको मुस्लिम समुदाय का संरक्षक बताता है। उनसे यह सवाल पूछा जाना चाहिए कि उनकी सरकार में भारत सरकार ने महज 12 हजार करोड़ रुपए का खर्च दिखाया था, जबकि पिछले नौ सालों के दौरान मोदी सरकार ने 31,450 करोड़ रुपये खर्च किए हैं। उन्होंने आगे कहा कि इनके स्कॉलरशिप के लिए भी कांग्रेस सरकार ने केवल 860 करोड़ रुपये का आवंटन किया था, जबकि मोदी सरकार ने 2,691 करोड़ रुपये का आवंटन किया है। केंद्रीय मंत्री ने कटाक्ष करते हुए कहा कि यह आंकड़े अपने आप में कांग्रेस की सच्चाई बताते हैं।
भाजपा के तीन सांसदों ने राहुल गांधी को लिखा पत्र
भाजपा के सांसदों ने राहुल गांधी को पत्र लिखकर मोहब्बत की दुकान की असलियत याद दिलाई। भाजपा सांसद पूनम महाजन, राज्यवर्धन राठौड़ और प्रवेश सिंह वर्मा ने राहुल गांधी को पत्र लिखकर कांग्रेस द्वारा मोहब्बत की जगह नफरत की दुकान चलाने के कार्यों को गिनाया। उन्होंने अपने पत्र में लिखा कि कांग्रेस के शासनकाल में सबसे अधिक दंगे हुए और नफरत की दुकानें सजाई गई। इसके लिए उन्होंने महात्मा गांधी की हत्या के बाद महाराष्ट्र में हुए नरसंहार, इंदिरा गांधी की हत्या के बाद सिखों का नरसंहार, फिरोजाबाद में दलितों की हत्या जैसे कांडों की याद दिलाई। सांसदों ने राहुल गांधी को लिखे पत्र में नेहरू—गांधी परिवार ने कांग्रेसी नेताओं के साथ तक बदसलूकी करने की भी याद दिलाई। जिसमें उन्होंने बताया कि सरदार पटेल की मृत्यु के बाद पंडित जवाहरलाल नेहरू ने अपने मंत्रियों और अधिकारियों को निर्देश दिया था कि वह दाह—संस्कार में शामिल होने न जाए। क्या कांग्रेस की यही मोहब्बत की दुकान थी। साथ ही सांसदों ने अपने पत्र में परिवार द्वारा रिश्तेदारों से किए गए अमानवीय व्यवहार का भी उल्लेख किया। इसके अलावा देश के महान विभूतियों के प्रति परिवार की नफरत का जिक्र कर कांग्रेस की मोहब्बत की दुकान पर हमला बोला।

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd