MharastraPoliticalCrisis ;भाजपा ने दिया एकनाथ शिंदे को डिप्टी सीएम बनने का ऑफर

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

स्वदेश [ विशाखा धारे ] : फ्लोर टेस्ट की खबर के आते ही सियासी घमासान तेज हो चुका है । फ्लोर टेस्ट कल यानि गुरुवार शाम 5 बजे तक इसकी डेडलाइन निर्धारित की गई हैं। राज्यपाल कोश्यारी ने सीएम उद्धव ठाकरे को फ्लोर टेस्ट के लिए कह दिया है। वहीं, शिवसेना आज सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई और कोर्ट ने भी अर्जी स्वीकार कर ली है । सुनवाई आज शाम 5 बजे होगी। उससे पहले भाजपा आज शाम अपने विधायकों की बैठक करेगी। ताकि कल के तय फ्लोर टेस्ट की तैयारी कर सके।

वहीं , शिंदे अपने गुट के साथ गुवाहाटी से आज गोवा रवाना होंगे और कल ये लोग मुंबई निकलेंगे। सूत्रों के मुताबिक, शिंदे गुट और भाजपा के बीच सरकार बनाने पर मंथन भी चल रहा है। वहीं , भाजपा ने एकनाथ शिंदे को डिप्टी सीएम और शिंदे गुट को 8 कैबिनेट और 5 राज्य मंत्रियों का ऑफर दिया हैं। जिसमें 5 मंत्री गुलाबराव पाटिल, संभुराज देशाई, संजय शिरसाट, दीपक केसरकर, उदय सामंत को मंत्री बनाया जा सकता हैं।

ये भी पढ़ें:  ओडिशा में बाढ़ से भयावह हालात, भारी बारिश के बीच कई तटीय जिलों में ‘हाई अलर्ट’
Eknath Shinde met Devendra Fadnavis in Vadodara last night: Report


वही, सियासी घमासान के बीच एकनाथ शिंदे का बड़ा बयान… बोले- देश कानून और संविधान से चलता है। कानून और संविधान से बढ़कर कुछ भी नहीं है। हमारे पास 50 विधायक है हमें फ्लोर टेस्ट की कोई चिंता नहीं है। हम हर कानूनी प्रक्रिया से गुजरेंगे। हमें कोई नहीं रोक सकता। इसी के साथ संजय राउत ने कही – 12 विधायकों के निलंबन का मामला कोर्ट में चल रहा है और ऐसे में राज्यपाल सेशन बुला रहे हैं, जो गलत है। वे इसी मौके की राह देख रहे थे। राज्यपाल पर भी इस फैसले के लिए कहीं से दबाव पड़ा होगा। परदे के पीछे कौन खेल रहा है, सभी देख रहे हैं।

ये भी पढ़ें:  एनसीबी के पूर्व अधिकारी समीर वानखेड़े को मिली जान से मारने की धमकी, मामले की जांच में जुटी पुलिस

सुप्रीम कोर्ट ने फ्लोर टेस्ट पर क्या कहा था –

बागी विधायकों की याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट में शिवसेना के वकील देवदत कामत ने फ्लोर टेस्ट का जिक्र किया था, जिस पर कोर्ट ने कहा इस पर हम कुछ नहीं कह रहे हैं। अगर, ऐसा कुछ हुआ तो आप कोर्ट आ सकते हैं। शिंदे ने 16 विधायकों की सदस्यता रद्द कर नोटिस और डिप्टी स्पीकर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के मुद्दे को लेकर याचिका दाखिल की हैं।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News