Home खास ख़बरें 1000 करोड़ के मुआवजे की कर सकते हैं मांग; वैक्सीनेशन, तीसरी लहर,...

1000 करोड़ के मुआवजे की कर सकते हैं मांग; वैक्सीनेशन, तीसरी लहर, मराठा आरक्षण और ताऊ ते से नुकसान पर चर्चा संभव

6
0

मुंबई, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और प्रधानमंत्री मोदी दिल्ली में मुलाकात कर रहे हैं। उनके साथ डिप्टी CM अजित पवार और मंत्री अशोक चव्हाण भी हैं। कोरोना महामारी के इस काल में वैक्सीन की कमी, संक्रमण की तीसरी लहर से निपटने की तैयारी, मराठा आरक्षण एवं चक्रवात राहत के लिए वित्तीय सहायता जैसे मुद्दों पर चर्चा होने की संभावना है। उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बनने के बाद दूसरी बार प्रधानमंत्री से मिलने दिल्ली आए हैं। संभवना जताई जा रही है कि उद्धव तूफान से हुए नुकसान पर मोदी से महाराष्ट्र के लिए 1000 करोड़ के मुआवजे की मांग कर सकते हैं। प्रधानमंत्री के साथ होने वाली इस मुलाकात से पहले CM ने देर शाम NCP चीफ शरद पवार से मुलाकात की है। 15 दिनों के दौरान दोनों नेताओं की यह दूसरी बैठक है। इस बैठक को लेकर मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा, ”प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात से पहले उद्धव ठाकरे ने शरद पवार से मुलाकात की और मराठा आरक्षण समेत कई मुद्दों पर बात की।
उप मुख्यमंत्री पवार और चव्हाण भी साथ
सीएम ठाकरे के साथ उपमुख्यमंत्री अजीत पवार, मराठा आरक्षण के लिए गठित उप समिति के अध्यक्ष व कैबिनेट मंत्री अशोक चव्हाण भी मौजूद हैं। सुप्रीम कोर्ट ने अपने एक फैसले में मराठा आरक्षण के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है। इस वजह से ठाकरे सरकार की मुश्किलें बढ़ गई हैं। अब इस आरक्षण को हासिल करने के लिए ठाकरे सरकार ने प्रधानमंत्री मोदी से मदद मांगी है। मराठा आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले की समीक्षा के बाद इलाहाबाद उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश दिलीप भोसले ने अपनी रिपोर्ट ठाकरे सरकार को सौंप दी है। इस रिपोर्ट में सुप्रीम कोर्ट में एक बार फिर पुनर्विचार याचिका दायर करने की सिफारिश की गई है। हालांकि, इससे पहले मुख्यमंत्री ठाकरे केंद्र सरकार को विश्वास में लेना चाहते हैं, ताकि इस बार सुप्रीम कोर्ट में मजबूती से पक्ष को रखा जा सके।
गुजरात की तर्ज पर महाराष्ट्र को भी मिले मुआवजा
उद्धव ठाकरे स्पेशल प्लेन से दिल्ली पहुंचे हैं। सूत्रों के मुताबिक, CM उद्धव चाहते हैं कि ताउते तूफान से हुए नुकसान की भरपाई के लिए गुजरात की तर्ज पर मुआवजा चाहते हैं। बता दें कि तूफान के बाद प्रधानमंत्री ने गुजरात के लिए 1 हजार करोड़ के मुआवजे का ऐलान किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here