Home देश कोविड संक्रमित हैं तो डाक्टरी सलाह से घर में कराएं इलाज, ऑक्सीजन...

कोविड संक्रमित हैं तो डाक्टरी सलाह से घर में कराएं इलाज, ऑक्सीजन का रखे ख्याल

17
0

जमशेदपुर। कोविड 19 का संक्रमण सामुदायिक फैलाव (कम्युनिटी ट्रांसमिशन) के कहीं अधिक आगे बढ़ गया है। जमशेदपुर शहर के सभी अस्पतालों में बेड की कमी है इसलिए जो मरीज कोरोना से संक्रमित हैं वे डाक्टरी सलाह व जरूरी दवा के साथ अपने घर पर ही रहकर अपना इलाज करा सकते हैं।

यह कहना है टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) के स्वास्थ्य सलाहकार डा. राजन चौधरी का। उन्होंने कहा कि लेकिन घर पर इलाज कराने वाले शहरवासियों को अपने ऑक्सीजन लेवल का भी ख्याल रखना होगा। यदि शरीर का ऑक्सीजन लेवल 94 से कम होता है तो उन्हें नजदीकी अस्पताल में जाना होगा जहां ऑक्सीजन की सुविधा है। वहीं, डा. चौधरी ने बताया कि कोविड के सेकेंड वेब के कारण टीएमएच में बेड पूरी तरह से भर चुके हैं। साथ ही जरूरी दवा, इंजेक्शन, टेस्टिंग किट का स्टॉक भी कम है। हमने अपने वेंडरों से जल्द डिलीवरी करने को कहा है।

शहर में तेजी से बढ़ रहा है संक्रमण

डा. चौधरी ने बताया कि कोविड सेकेंड वेब का संक्रमण तेजी से शहर में बढ़ते जा रहा है। कई केस ऐसे आ रहे हैं कि जिसमें परिवार का एक सदस्य पॉजिटिव होने से सभी पॉजिटिव हो जा रहे हैं इसलिए उन्होंने सभी से अपील की है कि जो पॉजिटिव हो रहे हैं वे खुद को अपने ही घर पर आइसोलेट कर लें। साथ ही सभी से नियमित रूप से मास्क पहनने, भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर नहीं जाने, शारीरिक दूरी का पालन करने व बार-बार हाथ धोने की अपील की है। उनका कहना है कि जब हम भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर नहीं जाएंगे तो पॉजिटिव लोगों के संपर्क में भी नहीं आएंगे।

40 डाक्टर सहित 125 कर्मचारी संक्रमित

डा. चौधरी ने बताया कि टीएमएच में अब 27 डाक्टर संक्रमित हो चुके हैं जबकि 13 डाक्टर परिवार के सदस्य संक्रमित होने के कारण आइसोलेशन में हैं। इसके अलावे 20 नर्स व 65 पारा मेडिकल स्टाफ भी संक्रमित हो चुके हैं। मरीजों की बढ़ती संख्या के कारण टीएमएच में पहले से ही काफी दबाव है इसलिए जैसे-जैसे संक्रमितों की संख्या बढ़ेगी, इसका असर टीएमएच की सुविधाओं, निरंतर जांच पर भी पड़ेगा।

वैक्सीन ही एकमात्र उपाय

टीएमएच स्वास्थ्य सलाहकार ने कहा कि संक्रमण को रोकने के लिए वैक्सीन ही एकमात्र उपाय है। उन्होंने बताया कि टीएमएच में अब तक 30,965 को वैक्सीन दी जा चुकी है। इनमें से 3781 ने अपना दूसरा डोज भी ले लिया है। डा. चौधरी ने बताया कि पहली मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र वाले युवाओं को वैक्सीन देने के लिए भी हम पूरी तरह से तैयार हैं। फिलहाल केंद्र सरकार के आदेश का इंतजार किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here