Home » कांग्रेस विधायक आलोक चतुर्वेदी के खिलाफ नोएडा में धोखधड़ी का केश दर्ज, जाने क्या है पूरा मामला

कांग्रेस विधायक आलोक चतुर्वेदी के खिलाफ नोएडा में धोखधड़ी का केश दर्ज, जाने क्या है पूरा मामला

छतरपुर। छतरपुर से कांग्रेस विधायक आलोक चतुर्चेदी (पज्जन भैया) के खिलाफ नोएडा के एक थाने में धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का मामला दर्ज किया गया है। आरोप है कि उन्होंने बिल्डिंग मटेरियल सप्लाई करने का ठेका लेकर 50 लाख रुपए एडवांस ले लिए और मटेरियल भी नहीं सप्लाई किया। ग्रेटर नोएड के जेवर थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है।

जानकारी के अनुसार मप्र कांग्रेस के नेता व छतरपुर से विधायक आलोक चतुर्वेदी ने 2019 में नोएडा के एक रेस्टोरेंट में अपनी कंपनी के सहयोगियों के साथ पहुंचे और बिल्डर से अनुबंध किया था। नोएडा के जेवर थाने में ग्रेटर नोएडा के आकाश इंफ्रास्ट्रक्चर के मालिक आलाश शर्मा को रोड मटेरियल सप्लाई का सौदा किया था। यह पर्चेस आर्डर मार्च 2019 में बनाया गया था। मटेरियल सप्लाई के बदले विधायक की कंपनी को 50 लाख का अग्रिम भुगतान भी बिल्डर द्वारा किया गया था। फरियादी ने उन्हें पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे प्रोजेक्ट के लिए पीएनसी इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड से क्रस्ड स्टोन की सप्लाई का ऑर्डर मिला था जिसके लिए उनकी खजुराहो मिनिरल्स प्रा. लिमि. को आर्डर दिया था। मटेरियल नहीं मिलने पर फरियादी ने खजुराहो मिनिरल्स प्रा. लिमिटेड के संचालक आलोक चतुर्वेदी, अजयपाल सिंह परमार, यशपाल सिंह परमार, कैलाश परमार, नीतिश चतुर्वेदी व निखिल चतुर्वेदी के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 406, 504 और 507 के तहत प्रकरण दर्ज कराया है।