कांग्रेस का महंगाई के खिलाफ ”काला” विरोध , राहुल – प्रियंका हिरासत में

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp
Congress Protest Live News Updates: महंगाई पर कांग्रेस का हल्लाबोल, हिरासत  में राहुल-प्रियंका Congress Protest March from parliament to president house

कांग्रेस पार्टी ने आज केंद्र सरकार के खिलाफ महंगाई और बेरोजगारी को लेकर विरोध प्रदर्शन के रूप में मार्च निकाला. पार्टी ने आज देशव्यापी विरोध का आह्वान किया. इस प्रदर्शन में पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई नेता शामिल हुए. हालांकि कांग्रेस को जंतर-मंतर को छोड़कर राष्ट्रीय राजधानी में कहीं और विरोध करने की परमिशन नहीं मिली थी, जिसकी वजह से दिल्ली पुलिस ने राहुल गांधी, प्रियंका गांधी सहित कई कांग्रेस नेताओं को हिरासत में ले लिया. विरोध करने राहुल गांधी काले कपड़े पहन संसद पहुंचे थे, साथ ही उनके साथ कई अन्य कांग्रेस सांसदों ने भी काले कपड़े पहनकर विरोध जताया.

Live: महंगाई पर कांग्रेस का हल्लाबोल: संसद से राहुल तो पार्टी दफ्तर से  प्रियंका करेंगी मार्च को लीड - Congress protest on price rise and inflation  Rashtrapati Bhawan rahul ...

सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन से पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने कहा कि हम शांति से राष्ट्रपति भवन जाना चाहते हैं. रैली में सभी लोग राज्यसभा और लोकसभा के सांसद हैं मगर हमें जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है. महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दों को लेकर हम यहां हैं. देश में लोकतंत्र की हत्या हो रही है. हमारा काम ये सुनिश्चित करना है कि भारतीय लोकतंत्र सुरक्षित हो.

ये भी पढ़ें:  भाजपा ने 7 राज्यों में चुनाव से पहले चला दलित कार्ड, मोदी सरकार ने दिया 950 करोड़ का फंड
महंगाई-बेरोजगारी के खिलाफ हल्लाबोल: राहुल गांधी समेत कई नेता पुलिस हिरासत  में, कहा- लोकतंत्र की हो रही है हत्या
  1. उनके बयान पर भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर झूठ बोलने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने साफ झूठ बोला है. उन्होंने कहा कि अभी 2 दिन पहले सदन में चर्चा हुई, लेकिन उसमें कांग्रेस पार्टी के लोगों ने भाग ही नहीं लिया था. राहुल गांधी ने यह झूठ क्यों बोला है कि उनको बोलने ही नहीं दिया जा रहा है.
  2. इसके बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पार्टी मुख्यालय से विरोध प्रदर्शन शुरू किया. बिना इजाजत प्रदर्शन करने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी को हिरासत में लिया गया. बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस ने बाद में सांसदों को जबरन उठाकर बस में भरा था.
  3. संसद भवन से पार्टी सांसदों का मार्च शुरू होने से पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी इसमें थोड़ी देर के लिए शामिल हुईं. पार्टी सांसदों ने काले कपड़े पहन रखे थे. पुलिस ने कांग्रेस नेताओं को विजय चौक पर ही रोक दिया. कांग्रेस सांसद राष्ट्रपति भवन तक पहुंचना चाहते थे.
  4. दिल्ली पुलिस ने राहुल गांधी, प्रियंका गांधी के अलावा प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस नेताओं मल्लिकार्जुन खड़गे, जयराम रमेश और रंजीत रंजन को भी हिरासत में लिया. राज्यसभा में विपक्ष के नेता और कांग्रेस सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के विरोध में काला कुर्ता और पगड़ी पहन कर अपना विरोध जताया. कांग्रेस के अन्य नेताओं ने भी काले कपड़े पहनकर विरोध जताया.
  5. कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा कि महंगाई और बेरोजगारी चरम सीमा पर है. कांग्रेस पार्टी महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ देशव्यापी विरोध कर रही है. हम लोगों को हिरासत में लिया जा रहा और ये दुख की बात है कि हम सत्याग्रह भी नहीं कर सकते हैं.
  6. कांग्रेस के सभी सांसद महंगाई और महंगाई का मुद्दा उठाने के लिए राष्ट्रपति भवन की ओर मार्च कर रहे थे. इस दौरान कांग्रेस सांसदों ने पुलिस पर मारपीट का भी आरोप लगाया.
  7. कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा AICC मुख्यालय के बाहर पार्टी के अन्य नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठीं. इस दौरान प्रियंका गांधी ने कहा कि महंगाई हद से ज़्यादा बढ़ गई है, सरकार को कुछ करना पड़ेगा. हम इसके लिए ही आंदोलन कर रहे हैं.
  8. विरोध प्रदर्शन के दौरान हिरासत में लिए गए कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा, ‘हम महंगाई और बेरोजगारी पर आवाज उठाना चाहते हैं. ये सरकार नौजवानों के भविष्य को बिगाड़ने का काम कर रही है. आज देश में महंगाई और बेरोजगारी को लेकर हम आवाज उठाना चाहते हैं, लेकिन हमें निशाने पर ले रहे हैं.’
  9. राहुल गांधी को हिरासत में लिए जाने पर नई दिल्ली की DCP अमृता गुगुलोथ ने बताया, हमने उनको हिरासत में लिया है. क्योंकि यहां धारा 144 लागू है और धरना प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं है. हमने उनको सूचित भी किया था. लेकिन वे नहीं माने. इसलिए हमने उनको हिरासत में लिया है.
ये भी पढ़ें:  कश्मीर घाटी में लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी की मौत, लेकिन नहीं लगी पुलिस की गोली

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News