Home देश महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सीएम उद्धव ठाकरे ने...

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सीएम उद्धव ठाकरे ने लॉकडाउन लगाने के दिए संकेत

7
0

मुंबई। महाराष्ट्र में बढ़ रहे कोरोना के मामलों के बीच रविवार को सीएम उद्धव ठाकरे ने लॉकडाउन लगाने के संकेत दिए हैं। वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारियों और सीओवीआईडी की टास्क फोर्स के साथ बैठक में उद्धव ने कहा कि अगर लोग कोरोना से संबंधित नियमों का उल्लंघन करना जारी रखते हैं तो लॉकडाउन के समान प्रतिबंधों के लिए तैयार रहें। इधर, महाराष्ट्र में बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने सख्त पाबंदियां लगा दी हैं। शनिवार को जारी अधिसूचना में कहा गया है कि ‘मिशन बिगिन अगेन’ के तहत कोरोना संबंधी सभी पाबंदियों को 15 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया है। मुंबई में जिस रिहायशी सोसाइटी में पांच या उससे अधिक संक्रमित पाए जाएंगे, उसे सील कर दिया जाएगा। अधिसूचना के मुताबिक सार्वजनिक स्थल पर बिना मास्क पाए जाने पर अब 500 रुपये का जुर्माना किया जाएगा। मॉल, रेस्तरां, बीच और गार्डन रात आठ से सुबह सात बजे तक बंद रहेंगे।

इस दौरान कोई वहां पाया जाता है तो एक हजार रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा। राज्य में रविवार की रात से धारा 144 लगा दी जाएगी। इसके बाद एक जगह पांच से ज्यादा लोगों के जमा होने पर रोक होगी। शनिवार की रात से थिएटरों को बंद कर दिया गया है। हालांकि, रात की बंदी से खाने की आपूर्ति को छूट दी गई है। कोरोना संक्रमित पाए जाने पर 14 दिन के होम क्वारंटाइन को अनिवार्य बना दिया गया है। मरीज के घर के बाहर इस आशय का बोर्ड लगा दिया जाएगा।

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लगाई गई नई पाबंदियों का विरोध शुरू हो गया है। बीड में शनिवार को नई पाबंदियों के खिलाफ व्यापारियों ने प्रदर्शन किया। इनका कहना था कि वे कोरोना संबंधी सभी नियमों का पालन करने के लिए तैयार हैं, लेकिन व्यावसायिक गतिविधियों को ठप करना ठीक नहीं है। भाजपा नेता और विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष प्रवीण दारेकर ने भी पाबंदियों को गलत बताते हुए कहा कि इससे कारोबार पर बुरा प्रभाव पड़ेगा। वहीं, राकांपा नेता छगन भुजबल ने अपने गृह जनपद नासिक में बाजार का दौरा किया और लोगों सो मास्क पहनने की अपील की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here