Home देश ममता बनर्जी का करीबी छत्रधर महतो गिरफ्तार, ट्रेन हाईजैक करने के आरोप...

ममता बनर्जी का करीबी छत्रधर महतो गिरफ्तार, ट्रेन हाईजैक करने के आरोप में एनआईए ने की कार्रवाई

9
0
  • पिछले साल माओवादी पार्टी छोड़कर टीएमसी में हुए थे शामिल
  • देर रात तीन बजे लालगढ़ स्थित घर से महतो को किया गिरफ्तार

कोलकाता। पश्चिम बंगाल चुनाव के दौरान ममता बनर्जी को एक और झटका लगा है। ममता बनर्जी के करीबी माने जाने वाले छत्रधर महतो को राष्ट्रीय जांच एजेंसी के अधिकारियों ने गिरफ्तार कर लिया है। महतो को 2009 में भुवनेश्वर-नई दिल्ली एक्सप्रेस को हाईजैक करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। ताजा जानकारी के अनुसार छत्रधर को कुछ देर पहले कोलकाता की बंकशाल अदालत में लाया गया है जहां उनकी पेशी होगी। ऐसा आरोप है कि छत्रधर महतो ने अपने साथियों के साथ गोलीबारी करके इस ट्रेन को कब्जाने की कोशिश की थी। बता दें कि शनिवार देर रात तीन बजे छत्रधर महतो को उनके लालगढ़ स्थित घर से गिरफ्तार किया गया है। महतो को ममता बनर्जी का दूत भी कहा जाता है। इस विधानसभा चुनाव में महतो टीएमसी के लिए लगातार चुनाव प्रचार कर रहे थे। 2016 के विधानसभा चुनाव में जेल में रहते हुए महतो ने टीएमसी को जीत दिला दी थी। बता दें कि महतो ममता बनर्जी के कोर समिति के सदस्य भी हैं।

पहले भी किया गया था गिरफ्तार

मीडिया रिपोट्र्स के मुताबिक, महतो को पहले भी गिरफ्तार किया गया था, लेकिन जेल से छूटने के बाद उन्हें टीएमसी ने अपनी पार्टी में शामिल कर लिया। पिछले साल छत्रधर महतो ने माओवादी पार्टी का दामन छोड़कर तृणमूल कांग्रेस का हाथ पकड़ लिया था। बता दें कि लालगढ़ आंदोलन के दौरान ममता बनर्जी ने नेता छत्रधर महतो के साथ मंच साझा किया था, उस वक्त ममता बनर्जी पर आरोप लगाया गया था कि वो माओवादियों का समर्थन ले रही हैं।

10 साल तक जेल में रहा है महतो

छत्रधर महतो पिछले साल फरवरी में ही जेल से छूटे हैं, दस साल तक वो जेल में रहे। जेल से छूटने के बाद टीएमसी ने महतो को जिला समिति में शामिल कर लिया था। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एनआईए को भुवनेश्वर-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस अपहरण मामले की जांच करने का आदेश दिया था। 2009 में इस ट्रेन का अपहरण हुआ था और इसका आरोप पीसीएपीए पर लगाया गया था। जो माओवादी इस घटना में शामिल थे, वो महतो की रिहाई की मांग करते रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here