टिस्को कंपनी में बम-गोलीबारी से हमला, कई घायल

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

वेस्ट बोकारो (रामगढ़)। रामगढ़ जिले के मांडू प्रखंड के वेस्ट बोकारो में गोलीबारी और बम से हमला हुई, जिसमें एक सुरक्षाकर्मी सहित 6 लोग घायल हो गए हैं। यह घटना ओपी क्षेत्र के मुकुंदाबेड़ा स्थित टाटा स्टील ( टिस्को) वेस्ट बोकारो डिविजन के.सी. प्वाइंट स्थित कांटाघर स्थित एटवाल में हुई है। चंद्रा कंपनियों के सेल्स ऑफिस के पास नरेश कुमार, टायकून, गोयल, एवं सास जहां ट्रकों की लोडिंग आदि के चालान कटते हैं, वहां अपराधियों ने बमों से हमला करते हुए ताबड़तोड़ गोलियां चलाई।

उसके बाद वहां भगदड़ मच गई। इसमें एसआईएस के एक सुरक्षाकर्मी सहित छह लोग घायल हो गए। इनमें से चार की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायल होने वालों में सभी टिस्को के आउट सोर्सिंग कंपनियों के कर्मचारी बताए जा रहे हैं।

फेंके पर्चे में राजू शर्मा का नाम भी छपा

अपराधियों ने घटनास्थल पर पर्चे भी फेंके हैं। इसमें लिखा है कि रामगढ़ जिले में अमन श्रीवास्तव से मैनेज किए बिना कोई भी काम नहीं होगा। पर्चे में राजू शर्मा का नाम भी छपा हुआ है। घायलों का इलाज टाटा के वेस्ट बोकारो स्थित सेंट्रल अस्पताल में चल रहा है। घटना की सूचना पाकर बेस्ट बोकारो ओपी पुलिस घटनास्थल पहुंच गए हैं। अपराधी दो-तीन बाइक पर सवार होकर यहां पहुंचे थे।

घटनास्थल पर मौजूद एसआईएस सुरक्षाकर्मी सत्येंद्र कुमार ने बताया कि शनिवार को लगभग दोपहर 12 बजे दो बाइक पर सवार चार लोग आए थे, जिसमें तीन नाटे कद के और एक सामान्य कद के लगभग 24-25 वर्ष के युवक थे। सभी ने जैकेट पहन रखी थी, सड़क पर ही अपनी बाइक खड़ी कर कांटाघर के बाहर तैनात सत्येंद्र से ही बोला कि हमलोग को इंटा भठ्ठा के लिए कोड खुलवाना है। पहचान पूछने पर रामगढ़ सेवाएं बताया। फिर सत्येंद्र ही उन्हें ऑफिस लेकर आया, अंदर जाकर आउट सोर्सिंग के कर्मचारियों को बताया कि चार लोग कोड खुलवाने आए हैं, अनुमति के बाद उन्हें अंदर बुलाया गया। अंदर घुसते ही चारों ने एकाएक गोलियां चलानी और बम पटकने शुरू कर दिए। एक गोली विनय कुमार सिन्हा को लगी।

बमों के छर्रे भी लोगों को लगी। उसके बाद अफरातफरी मच गई। लोगों को जिधर जान बचने का मौका मिला उधर ही भाग लिए। सत्येंद्र भी जान बचाने को भागा, इस मौके का फायदा उठाकर अपराधी भाग खड़े हुए, जबकि थोड़ी देर बाद ही लोग जुटे तो स्थिति का जायज़ा लिया और सुरक्षा विभाग व पुलिस को सूचना दी गई।

घायलों को फौरन वेस्ट बोकारो के सेंट्रल अस्पताल लाया गया, जहां सभी का इलाज किया जा रहा। विनय कुमार सिन्हा की स्थिति थोड़ी गंभीर बताई जा रही। घायलों में जीएस एटवाल कंपनी के कर्मचारियों में श्यामल मुखर्जी, अमित मुखर्जी व जयंत पाल, वंशीधर तिरुपति कंपनी के 47 वर्षीय कर्मचारी विश्वमोहन प्रसाद, टायकून इंडस्ट्रीज के विनय कुमार सिन्हा और एसआईएस सुरक्षाकर्मी 26 वर्षीय सत्येंद्र कुमार के रुप में बताई गई हैं।

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recent News

Related News