Home देश एंटीलिया मामला: मनसुख का पोस्टमार्टम करने वाले 3 डॉक्टर्स एनआईए की रडार...

एंटीलिया मामला: मनसुख का पोस्टमार्टम करने वाले 3 डॉक्टर्स एनआईए की रडार पर, ऑटोप्सी के दौरान वझे के मौके पर रहने के सबूत मिले

6
0

मुंबई । एंटीलिया केस में स्कॉर्पियो के मालिक मनसुख हिरेन की हत्या की जांच एनआईए ने तेज कर दी है। उसे पुख्ता सबूत मिले हैं कि हिरेन के पोस्टमार्टम के दौरान एपीआई सचिन वझे ठाणे के सरकारी अस्पताल में मौजूद था, ऐसे में अब शव की जांच करने वाले 3 डॉक्टर्स से पूछताछ की तैयारी है।

पोस्टमार्टम वाली जगह मनसुख के भाई से भी मिला था वझे

जांच में यह भी सामने आया है कि वझे 5 मार्च को शाम 6.30 बजे के आसपास ठाणे के सरकारी हॉस्पिटल में पहुंचा था। उसने क्राइम ब्रांच के अधिकारी अलक नूर से बातचीत की थी। एनआईए अलक नूर से भी पूछताछ करेगी कि क्या उन्होंने वझे को पोस्टमार्टम हाउस में जाने की अनुमति दी थी? जांच में यह भी सामने आया ही कि वझे ने वहां मौजूद मनसुख के भाई विनोद हिरेन से भी मुलाकात की थी।

डायटम रिपोर्ट पर सवाल खड़े हुए

इससे पहले आई हिरेन की डायटम रिपोर्ट को लेकर भी गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं। सूत्रों के मुताबिक, अब तक की जांच में सामने आया है कि मनसुख को पहले कार में 3 से 4 लोगों ने मारा और फिर शव पानी में फेंक दिया था, लेकिन मनसुख की जो डायटम रिपोर्ट आई थी, उसके आधार पर दावा किया गया था कि मनसुख जब पानी में गिरा तो वह जिंदा था। एटीएस के डीआईजी ने इस डायटम रिपोर्ट को हरियाणा की लैब में भेजा है। एनआईए उस रिपोर्ट का भी इंतजार कर रही है। इससे पहले एटीएस की टीम ने पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर्स से कई घंटे की पूछताछ कर चुकी है। इसकी ट्रांसक्रिप्ट एनआईए को सौंप दी गई है, इसके बावजूद एनआईए इनसे पूछताछ करेगी।

परिवार के आरोप की जांच भी करेगी एनआईए

मनसुख के परिवार ने भी आरोप लगाया है कि ऑटोप्सी के दौरान सचिन वझे लगातार पोस्टमार्टम हाउस में मौजूद था। परिवार को शक है कि उसके कहने पर ही डॉक्टर्स ने यह रिपोर्ट बदल दी है। परिवार के इन आरोपों को भी एनआईए की टीम वेरिफाई करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here