Home देश सीबीएसई के बाद इन स्टेट बोर्डों की 12वीं की परीक्षाएं रद्द

सीबीएसई के बाद इन स्टेट बोर्डों की 12वीं की परीक्षाएं रद्द

15
0

नई दिल्ली। सीबीएसई, सीआईएससीई और हरियाणा बोर्ड की 12वीं की परीक्षाएं रद्द होने के बाद अब मध्य प्रदेश, गुजरात सहित कई राज्यों में भी 12वीं बोर्ड परीक्षा रद्द हो गई। बाकी बचे राज्य भी स्टेट बोर्ड परीक्षा को लेकर जल्द फैसला लिया जा सकता है।

1 जून 2021 को पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक में 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने का फैसला किया गया। यह फैसला देशभर में कोरोना की परिस्थितियों को देखते हुए लिया गया है। सीबीएसई और सीआईएससीई की परीक्षाएं रद्द होने से देशभर के करीब 16 लाख छात्रों को बड़ी राहत मिली है।
परीक्षा रद्द करने की जानकारी देते हुए केंद्र सरकार ने कहा कि अब राज्यों के पास भी 12वीं परीक्षा रद्द करने का विकल्प होगा।। हालांकि 12वीं परीक्षा रद्द किए जाने को लेकर राज्यों पर कोई बाध्यता नहीं होगी, ऐसे में अब कई स्टेट बोर्डों द्वारा परीक्षाए रद्द किए जा रहे हैं।

मध्य प्रदेश में 12वीं बोर्ड परीक्षा रद्द

मध्य प्रदेश की राज्य बोर्ड ने भी 12वीं की परीक्षा को रद्द कर दिया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस फैसले का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा मध्य प्रदेश में 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं इस वर्ष अयोजित नहीं की जाएंगी। बच्चों की ज़िंदगी हमारे लिए अनमोल है। करियर की चिंता हमलोग बाद में कर लेंगे।

बच्चों पर जिस समय कोरोना का बोझ है, उस समय हम उन पर परीक्षाओं का मानसिक बोझ नहीं डाल सकते। उन्होंने कहा कि 12वीं बोर्ड के रिजल्ट किस आधार पर तैयार किए जाएंगे ये तय करने के लिए मंत्रियों का एक समूह बनाया गया है। जो विशेषज्ञों से चर्चा करने के बाद आंतरिक मूल्यांकन या अन्य आधारों पर विचार करेंगे और रिजल्ट का तरीका तय करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने 10वीं बोर्ड की परीक्षा को न कराने का फैसला लिया था। 10वीं के बच्चों का परिणाम आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर घोषित किया जाएगा।

गुजरात बोर्ड ने भी 12वीं की परीक्षा रद्द की

कोरोना संकट को देखते हुए गुजरात सरकार ने बच्चों को एक बड़ी राहत दी है। सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड के बाद अब गुजरात बोर्ड ने भी 12वीं की परीक्षा रद्द कर दी है। गुजरात सरकार ने बुधवार को 12वीं की परीक्षा रद करने का आदेश जारी किया। इससे पहले गुजरात कैबिनेट की बैठक हुई, जिसमें परीक्षा को रद करने पर आम सहमति बनी। कैबिनेट बैठक में इस बात पर भी चर्चा हुई कि कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए हालात अभी भी ऐसे नहीं हैं कि बच्चों की सेहत को खतरे में डालने का जोख‍िम उठाया जा सके।

यूपी बोर्ड परीक्षाओं का हो चुका है ऐलान

उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा इंटर बोर्ड परीक्षाओं को लेकर साफ कर चुके हैं कि 12वीं की परीक्षाएं जुलाई के दूसरे सप्ताह में आयोजित की जा सकती हैं। उन्होंने कहा था कि परीक्षा कार्यक्रम जल्द ही छात्रों को उपलब्ध करा दिया जाएगा। लेकिन जब उनकी पार्टी की केंद्र सरकार ने सीबीएसई 12वीं की परीक्षाएं रद्द कर दी हैं ऐसे में राज्य सरकार भी अपने यहां परीक्षांए रद्द करने पर विचार कर सकती है। यूपी बोर्ड 12वीं की परीक्षा में करीब 25 लाख छात्र-छात्राएं भाग लेंगे।

इन राज्यों में ऐलान होना बाकी

12वीं परीक्षा को लेकर अन्य स्टेट बोर्डों की बात करें तो अभी महाराष्ट्र बोर्ड, झारखंड बोर्ड और राजस्थान बोर्ड को 12वीं परीक्षाओं को बारे में फैसला करना है। खास बात यह है कि बोर्ड परीक्षाओं को रद्द किए जाने का लगातर समर्थन करने वाली झारखंड सरकार ने अभी तक 10वीं की परीक्षा रद्द नहीं की और न ही 12वीं परीक्षा पर कोई फैसला किया है। लेकिन सीबीएसई परीक्षा पर फैसला आने के बाद उम्मीद है कि अगले एक-दो दिन में झारखंड सरकार भी अपना फैसला बता सकती है।

राजस्थान में भी रद्द हो सकती है

वहीं राजस्थान बोर्ड की बात करें तो यहां भी सरकार अब 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं को रद कर सकती है। कुछ दिन पहले शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा था कि वे सीबीएसई के फैसले के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से चर्चा कर 10वीं, 12वीं की परीक्षाओं के बारे में निर्णय लेंगे। लेकिन अब जिस तरह से सीबीएसई की परीक्षाओं को रद्द किए जाने का फैसला हुआ है उससे प्रभावित होकर राजस्थान सरकार भी कक्षा 10, 12 की परीक्षाओं को रद्द करने पर विचार कर सकती है। उम्मीद है कि राजस्थान बोर्ड 10वीं, 12वीं परीक्षाओं को लेकर ऐलान एक-दो दिन में ही जाएगा।

महाराष्ट्र में जल्द होगा निर्णय

इसके अलावा महाराष्ट्र बोर्ड ने भी 10वीं की परीक्षाएं रद्द कर चुका है। यहां भी अभी 12वीं की परीक्षाओं पर फैसला लिया जाना बाकी है जो कि अब जल्द ही तय किया जा सकता है। देशभर में सभी बोर्डों के 12वीं के छात्रों की बात की जाए तो इस साल करीब 1.5 करोड़ स्टूडेंट्स 12वीं परीक्षा के लिए अपना रजिस्ट्रेशन कराया था।

उत्तराखंड बोर्ड की 12वीं की परीक्षाएं भी हो सकती हैं रद्द

उत्तराखंड में अब 12वीं की परीक्षाएं भी रद्द हो सकती हैं। राज्य के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के मुताबिक देश में सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा को लेकर जो निर्णय हुआ है। राज्य सरकार उस फैसले से बाहर नहीं हैं। परिस्थितियों को देखते हुए परीक्षा के संबंध में जल्द ही घोषणा कर दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here