74वां गणतंत्र दिवस होगा बेहद खास, परेड में दिखेगा ‘मेड इन इंडिया’ का जलवा

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp
  • 26 जनवरी 2023 को भारत अपना 74वां गणतंत्र दिवस मनाएगा। इस मौके पर हर साल की तरह भव्य और शानदार परेड का आयोजन किया जाता है।
    नई दिल्ली ।
    भारत इस साल अपना 74वां गणतंत्र दिवस मनाने जा रहा है। 26 जनवरी, 1950 को भारत ने संविधान अपनाया था इसलिए सभी भारतीयों के लिए ये दिन बेहद खास है। हर साल भव्यता के साथ इस राष्ट्रीय पर्व को मनाया जाता है। इस दिन देशभर में कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। इस मौके पर राष्ट्रपति भवन से लेकर इंडिया गेट तक आकर्षक परेड होती है। लेकिन इस बार गणतंत्र दिवस पर कुछ चीजें खास होने वाली हैं, जो पर पहली बार होंगी। गणतंत्र दिवस परेड में इस बार प्रदर्शित होने वाले सेना के सभी हथियार ‘मेड इन इंडिया’ होंगे। 21 तोपों की सलामी देसी 105एमएम इंडियन फील्ड गन्स से होगी। डियन फील्ड गन्स ब्रिटिश-युग की 25-पाउंडर तोपों की जगह लेंगी। ब्रिटिश तोपों का इस्तेमाल द्वितीय विश्व युद्ध में किया गया था। हालांकि, भारतीय तोपों का इस्तेमाल पिछले साल के स्वतंत्रता दिवस पर किया जा चुका है। लेकिन गणतंत्र दिवस पर पहली बार इनका उपयोग होगा। इजिप्ट की एक सैन्य टुकड़ी और नव-भर्ती अग्निवीर पहली बार परेड में शामिल होंगे। इसके अलावा, गणतंत्र दिवस पर पाकिस्तान से लगती रेगिस्तानी सीमा की रक्षा करने वाली महिला सैनिक बीएसएफ की ऊंट टुकड़ी का हिस्सा लेगी। रणनीतिक आधार पर तैनात महिला अधिकारी ‘नारी शक्ति’ का प्रदर्शन करने वाले नौसेना के 144 नाविकों के दल का नेतृत्व करेंगी।परेड के लिए अपने आखिरी उड़ान के साथ नौसेना का आईएल-38 विमान इतिहास की किताबों में दर्ज हो जाएगा। इस समुद्री टोही विमान ने लगभग 42 वर्षों तक नौसेना की सेवा की है। दिल्ली क्षेत्र के चीफ ऑफ स्टाफ मेजर जनरल भवनीश कुमार ने बताया है कि परेड सुबह 10.30 बजे विजय चौक से शुरू होगी और टुकड़ी सीधे लाल किले तक मार्च करेगी। महामारी के चलते लाल किले तक परेड के पारंपरिक मार्ग को बंद कर दिया गया था। फ्लाई पास्ट में भाग लेने वाले 44 विमानों में नौ राफेल जेट और हल्के हमलावर हेलीकॉप्टर सहित अन्य विमान शामिल होंगे। परेड में इस साल 23 झांकियां दिखाई जाएंगी। जिनमें 17 झांकियां विभिन्न राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों की होंगी जबकि छह विभिन्न सरकारी मंत्रालयों और विभागों की हैं। इसके अलावा, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो पहली बार झांकी दिखाएगा। कर्तव्य पथ इस बार गणतंत्र दिवस समारोह की मेजबानी करेगा।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News