Home देश 3.15 लाख संक्रमित 24 घंटे में मिले, किसी भी देश में एक...

3.15 लाख संक्रमित 24 घंटे में मिले, किसी भी देश में एक दिन में मिले संक्रमितों की सर्वाधिक संख्या

105
0
  • इससे पहले अमेरिका में 8 जनवरी को मिले थे 3.07 लाख मरीज

नई दिल्ली। भारत में कोरोना भयावह रूप ले चुका है। देश के लिए बहुत चिंतित करने वाली खबर है कि बीते चौबीस घंटे में रिकॉर्ड 3 लाख 15 हजार 552 संक्रमित मिले हैं, जबकि दो हजार से अधिक लोगों की एक दिन में मौत हो चुकी है।

संक्रमितों की यह संख्या एक दिन में किसी भी देश में मिलने वाले मरीजों की सबसे बड़ी संख्या है। नए मरीजों के मामले में भारत अमेरिका से भी आगे निकल गया है। इसके पहले अमेरिका में सबसे ज्यादा 8 जनवरी को 3 लाख 7 हजार लोग पॉजिटिव पाए गए थे। मौत के मामले में भी पिछले दो दिनों से डराने वाले आंकड़े सामने आ रहे हैं।

बुधवार को रिकॉर्ड 2,101 लोगों ने दम तोड़ दिया। मौतों का यह आंकड़ा अब तक का सबसे ज्यादा है। इससे पहले मंगलवार को 2,021 मौतें दर्ज की गई थीं। पूरी दुनिया में ब्राजील के बाद भारत इकलौता देश है जहां एक दिन में इतनी मौतें हो रही हैं। बाकी सभी देशों में एक हजार से कम ही लोग जान गंवा रहे हैं।
ब्राजील में एक से दो हजार मौतें हो रहीं हैं। देश में एक्टिव केस बढऩे का भी रिकॉर्ड आंकड़ा सामने आया। एक दिन में 1.33 लाख एक्टिव केस बढ़े। इसके पहले सबसे ज्यादा 18 अप्रैल को 1.29 लाख और मंगलवार को 1.25 लाख एक्टिव केस बढ़े थे। अब पूरे देश में 22.84 लाख मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है। इन्हें ही एक्टिव केस कहा जाता है। हालांकि, 1.79 लाख लोग ठीक भी हुए। ये भी एक दिन में अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है।

फैक्ट फाइल
एक दिन में नए मामले 3.15 लाख
एक दिन में स्वस्थ हुए 1.79 लाख
एक दिन में मृत 2,101 लोग
देश में एक्टिव केस 22.84 लाख

महाराष्ट्र में सबसे अधिक संक्रमित

देश में एक दर्जन राज्य हैं, जहां सबसे अधिक कोरोना के मामले आ रहे हैं। संक्रमितों की संख्या वाले राज्यों में महाराष्ट्र सबसे ऊपर है। महाराष्ट्र में 67,468, उत्तर प्रदेश में 33,106, दिल्ली में 24,638, कर्नाटक में 23,558, केरल में 22,414, राजस्थान में 14,622, छत्तीसगढ़ में 14,519, गुजरात में 12,553, मध्य प्रदेश में 12,384, बिहार में 12,222, तमिलनाडु में 11,681, पश्चिम बंगाल में 10,784 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए।

11 से 15 मई तक अपने चरम पर होंगे एक्टिव मामले

भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने देश में चिंताजनक स्थिति पैदा कर दी है। ऐसे में वैज्ञानिक एक मैथमेटिकल मॉडल पर काम कर रहे हैं, जिसके मुताबिक भारत में 11 से 15 मई के बीच कोरोना वयरस के सबसे ज्यादा एक्टिव केस देखने को मिलेंगे। माना जा रहा है कि इस दौरान 33 से 35 लाख एक्टिव केस सामने आ सकते हैं। ऐसे में अगले तीन हफ्ते तक भारत में कोरोना के केस बढऩे की ही उम्मीद है।

पिछले साल शुरू हुई कोरोना की पहली लहर से मौजूदा दूसरी लहर 10 गुणा ज्यादा लोगों को प्रभावित करेगी। इस मैथमेटिकल मॉडल से यह भी पता चला है कि 25 से 30 अप्रैल तक दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और तेलंगाना में सबसे ज्यादा कोरोना के केस देखने को मिलेंगे, वहीं ओडिशा, कर्नाटक और पश्चिम बंगाल में सबसे ज्यादा केस 1 से 5 मई के बीच सामने आएंगे। इनके अलवा 6 से 10 मई के बीच तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में केस देखने को मिलेंगे। इससे यह भी पता चला है कि महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ इस समय अपने पीक लैवल पर पहुंचने वाले हैं और 25 अप्रैल तक यहां केस अभी बढ़ेंगे।

ईस्ट-सेंट्रल रेलवे के 2,251 कर्मचारी संक्रमित

कोरोना की दूसरी लहर में अब तक ईस्ट सेंट्रल रेलवे के हाजीपुर मुख्यालय से लेकर सभी 5 रेल डिवीजनों में अधिकारियों से लेकर कर्मचारियों तक कुल 2,251 लोग कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। इनमें दो रेल डिवीजन पंडित दीनदयाल उपाध्याय, उत्तर प्रदेश में और धनबाद, झारखंड में आते हैं।

ईस्ट सेंट्रल रेलवे के सीपीआरओ राजेश कुमार का कहना है कि जरूरत पडऩे पर असिस्टेंट लोको पायलट गार्ड की भूमिका निभा सकते हैं। दावा तो यह किया गया है कि बहुत सारे रेलवे कर्मचारी ऐसे हैं, जिन्होंने कोरोना के लक्षण पाए जाने के बाद बाहर जांच कराई और पॉजिटिव आने पर वे अपने स्तर पर इलाज करवा रहे हैं। ऐसे लोगों का आंकड़ा रेलवे के पास नहीं है।

Previous articleप्रसिद्ध इतिहासकार डॉ. सुरेश मिश्र के निधन पर मुख्यमंत्री ने जताया दु:ख
Next articleबुधवार की अपेक्षा गुरुवार को 700 संक्रमित कम मिले, 12384 नए संक्रमित मिले, 75 की मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here