Home देश मनमानी: कोरोना के नाम पर 10 रुपये का प्लेटफार्म टिकट 50 में...

मनमानी: कोरोना के नाम पर 10 रुपये का प्लेटफार्म टिकट 50 में बेच रहा है रेलवे

13
0

प्रयागराज। दिल्ली-मुम्बई समेत कई बड़े शहरों के रेलवे स्टेशनों पर प्लेटफार्म टिकट तीन गुना ज्यादा दाम यानी तीस रुपये में बेचे जाने पर मचा कोहराम अभी थमा भी नहीं था कि रेलवे ने अब प्रयागराज मंडल के सात स्टेशनों पर इसे 50 रुपये में बेचना शुरू कर दिया है। कानपुर-प्रयागराज-मिर्जापुर और अलीगढ़ जैसे स्टेशनों पर प्लेटफार्म टिकट की बिक्री दो दिन पहले ही शुरू हुई है, इन स्टेशनों पर 10 रुपये का प्लेटफार्म टिकट 50 रुपये में बेचा जा रहा है। 10 रुपये का प्लेटफार्म टिकट 50 रुपये में बेचे जाने से ज़रूरतमंद लोगों को खासी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि इसके पीछे रेलवे ने यह दलील दी है कि गैर जरूरी भीड़ को रोकने के लिए अस्थाई तौर पर यह फैसला लिया गया है। 10 का प्लेटफार्म टिकट 50 रुपये में सिर्फ 30 जून तक ही बेचा जाएगा, उसके बाद नये सिरे से फैसला लिया जाएगा। गौरतलब है कि पिछले साल मार्च महीने में कोरोना की दस्तक के बाद ट्रेनों का संचालन बंद होने पर रेलवे ने प्लेटफार्म टिकटों की बिक्री बंद कर दी थी। यात्री ट्रेनें अब भी स्पेशल के तौर पर ही चल रही हैं। दिल्ली-मुम्बई जैसे बड़े शहरों ने पिछले दिनों प्लेटफार्म टिकट की बिक्री शुरू की तो इसकी कीमत तीन गुना बढ़ाकर 30 रुपये कर दी थी, इस पर काफी कोहराम मचा था। यह कोहराम अभी थमा भी नहीं कि प्रयागराज मंडल ने सात रेलवे स्टेशनों पर पिछले दो दिनों से प्लेटफार्म टिकट बेचने शुरू कर दिए। प्रयागराज मंडल के सात रेलवे स्टेशनों प्रयागराज जंक्शन, कानपुर, अलीगढ़, इटावा, टुंडला, मिजऱ्ापुर और प्रयागराज छिंवकी पर टिकटों की बिक्री शुरू की है। हालांकि इन सभी जगहों पर प्लेटफार्म टिकट के दाम 10 रुपये से बढ़ाकर 50 रुपये रखे गए हैं। नार्थ सेंट्रल रेलवे जोन के सीपीआरओ अजीत कुमार सिंह के मुताबिक इस तरह का फैसला इसलिए लिया गया है ताकि बहुत जरूरतमंद लोग ही रेलवे स्टेशनों में दाखिल हो सके। आने वाले दिनों में होली का त्यौहार है और साथ ही गर्मी की छुट्टियां भी शुरू हो रही हैं, ऐसे में रेलवे स्टेशनों पर भीड़ बढऩे की उम्मीद है। मुसाफिरों को छोडऩे या रिसीव करने वाले ज्यादा लोग प्लेटफार्म तक न जाएं, इसीलिये प्लेटफार्म टिकट का दाम बढ़ाकर 50 रुपये किया गया है। उनके मुताबिक कोरोना का खतरा अभी कम नहीं हुआ है। ऐसे में भीड़ को काबू में रखने और सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन कराने के लिए इस तरह का फैसला करना जरूरी था। उनके मुताबिक प्लेटफार्म टिकट के दाम पांच गुना किये जाने का फैसला डिवीजन लेवल पर किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here