Home देश दिल्ली एयरपोर्ट पर यात्री ने मचाया उत्पात, बैगेज चेकिंग बेल्ट पर चढ़कर...

दिल्ली एयरपोर्ट पर यात्री ने मचाया उत्पात, बैगेज चेकिंग बेल्ट पर चढ़कर की बोर्डिंग सिस्टम रोकने की कोशिश

21
0

नई दिल्ली। मुंबई जाने वाली विस्तारा एयरलाइंस के एक यात्री ने दिल्ली एयरपोर्ट के (T3) पर उस समय हंगामा कर दिया जब उसे फ्लाइट में चढ़ने की अनुमति नहीं दी गई, क्योंकि उसके पास RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट नहीं थी, जो महाराष्ट्र जाने वाले प्रत्येक यात्री को जमा करनी आवश्यक है।

दिल्ली एयरपोर्ट के अधिकारियों ने बताया कि 22 जून को, विस्तारा के एक यात्री सूरज पांडे ने अनिवार्य आरटी-पीसीआर रिपोर्ट नहीं होने के कारण एयरलाइन के कर्मचारियों के खिलाफ विरोध शुरू कर दिया था। यात्री को एयरपोर्ट पर बैगेज चेकिंग बेल्ट पर खड़ा देखा गया था और उसने बोर्डिंग सिस्टम को रोकने की भी कोशिश की थी।

उन्होंने कहा कि यात्री ने एयरपोर्ट और एयरलाइन के कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार किया और हिंसक हो गया। एयरलाइन ने तुरंत उसे नियंत्रित करने के लिए एविएशन सिक्योरिटी (CISF) को एयरपोर्ट पर बुलाया।

एयरलाइंस ने बताया कि जब कर्मचारियों द्वारा बार-बार समझाने के बाद यात्री नियंत्रण से बाहर हो गया, तो आखिरकार उसे काबू करने के लिए सीआईएसएफ को बुलाया गया। बाद में यात्री के खिलाफ आगे की कार्रवाई के लिए दिल्ली पुलिस में एक आधिकारिक शिकायत दर्ज कराई गई। हंगामा कर रहे यात्री को CISF ने दिल्ली पुलिस के हवाले कर दिया है और दिल्ली पुलिस ने आरोपी यात्री के खिलाफ कई मामले दर्ज किए हैं।

आईजीआई एयरपोर्ट के डीसीपी राजीव रंजन ने कहा कि हमारे स्टाफ ने सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की जो शिकायतकर्ता की शिकायत का समर्थन करता है। शिकायत से संबंधित सामग्री, सीसीटीवी फुटेज और अब तक की गई जांच को लेकर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ चर्चा की गई। आरोपी सूरज पांडे ने डीपी एक्ट की धारा 92/93/97 के तहत अपराध किया है। उसके खिलाफ डीडी नंबर 57 ए दिनांक 21.06.2021 दर्ज कर गिरफ्तार किया गया था और उसकी मेडिकल जांच भी कराई की गई थी।

आरोपी एक व्यवसायी है। अपराध जमानती होने के कारण उसे जमानत पर रिहा कर दिया गया और न्यायिक फैसले के लिए कलंद्रा की एक अदालत में पेश किया जाएगा। वहीं, एयरलाइंस ने कहा कि विस्तारा ने नियमानुसार यात्री को पूरा रिफंड भी किया है।

Previous articleभारत में रोकी जा सकती है कोरोना की तीसरी लहर, नीति आयोग के सदस्य ने बताया उपाय
Next articleउत्तर कोरिया ने अमेरिका को किया खबरदार, कहा- वार्ता के सपने नहीं देखे बाइडन प्रशासन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here