उदयपुर कांड ; कांग्रेस पर भाजपा का आरोप , कहा – कांग्रेस ने अपराधियों को उकसाया

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on pinterest
Pinterest
Share on pocket
Pocket
Share on whatsapp
WhatsApp

स्वदेश , रौशन

CM Ashok Gehlot said - 100 percent reservation to the people of Rajasthan  in jobs - नौकरियों में राजस्थान के लोगों को मिलेगा 100 प्रतिशत आरक्षण, सीएम  गहलोत बोले- परीक्षण करवा रहा ...

राजस्थान : उदयपुर में हुए कन्हैया लाल की नृशंस हत्या के बाद पूरे राजस्थन में तनाव का माहौल है। उदयपुर में भारी संख्या में सुरक्षाबल तैनात किया है। कई इलाके में कर्फ्यू लगाया गया है। वहां तनावपूर्ण स्थिति बानी हुईं है। लोगो में हत्या करने वाले सख्श के खिलाफ आक्रोश है।

Udaipur tailor cremated amid tight security - The Hindu

कन्हैया लाल के पत्नी ने अपने पति के हत्यारे फांसी देने की गुहार लगाई है। वही , इस मामला से जुड़ा अहम सख्श कन्हैया लाल के बेटे ने कहा की हम चाहते है कि या तो उनका [हत्यारो ] एनकाउंटर हो जाए या फांसी पर लटका दिया जाए। उनमे डर पैदा करने की ज़रूरत हैं।

Congress leader Mallikarjun Kharge dissociates himself from process of  selection of NHRC chairperson and members - खड़गे ने NHRC के अध्यक्ष और  सदस्यों के चयन की प्रक्रिया से खुद को अलग किया
FILE PHOTO

वही इस मामले पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि उदयपुर की घटना बहुत ही निंदनीय है। राजस्थान सरकार ने तुरंत करवाई की और 2 -4 घंटे में आरोपियों को पकड़ लिया है। ये दर्शाता है कि घटना को सतर्कता से लिया गया है। अब राज्य सरकार खुद मामले की जाँच कर रही है तो अब राज्य सरकार का मनोबल नहीं गिरना चाहिए। इस घटना की जाँच राज्य सरकार खुद सीबीआई को सौंपती या किसी और एजेंसी को सौपती लेकिन केंद्र सर्कार ने राज्य को बिना बताये , बिना उन्हें शामिल किए जाँच को किसी और को सौप दिया तो ये करना उचित नहीं है।

ये भी पढ़ें:  बॉर्डर एरिया में जनसंख्या में हो रहे बदलाव को लेकर अमित शाह ने किया अलर्ट
राजस्थान में 10 सालों में 78 बार बंद किया गया इंटरनेट, J-K के बाद दूसरे  नंबर पर: राठौड़ - Rajya Vardhan Singh Rathore says Internet shut down 78  times in 10 years
FILE PHOTO

इधर भाजपा नेता राज्यवर्धन सिंह राठौर ने इसका जिम्मेदार राजस्थान की कांग्रेस सरकार को ठहराया है। राज्यवर्धन ने कहा कि इस आतंकी हमले के लिए पूरीतरह से राजस्थान सरकार जिम्मेदार है। राजस्थान में लगातार ऐसी घटनाए सामने आ रही है। राज्य में आतंवादी संगठन पनप रहे है और राज्य सरकार प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से उकसाया है।

Gehlot's attack on PM Modi: He said - if the right decisions are made in  favor of the farmers, then the movement does not happen. | सीएम अशोक गहलोत  का पीएम मोदी
FILE PHOTO

वही सीएम गहलोत ने कहा कि अगर हम लोग कोई बात बोलते हैं, अपील करते हैं, फर्क पड़ता है, परंतु जब प्रधानमंत्री किसी बात को कहते हैं तब ज्यादा फर्क पड़ता है। मेरा मानना है कि पीएम को ऐसे समय में आकर पूरे देश को संबोधित करना चाहिए, अपील करनी चाहिए कि हम किसी कीमत प्रकार की हिंसा को बर्दाश्त नहीं करेंगे और प्रेम-भाईचारे से रहो, ये कहने में क्या हर्ज है? ये घटना उदयपुर की कोई मामूली घटना नहीं है, जिस रूप में की गई है, कल्पना के बाहर है कि ऐसा भी कोई कर सकता है क्या ? इसकी जितनी निंदा करें उतनी कम है।

ये भी पढ़ें:  भाजपा ने 7 राज्यों में चुनाव से पहले चला दलित कार्ड, मोदी सरकार ने दिया 950 करोड़ का फंड

मुख्यमंत्री गहलोत ने उदयपुर हत्याकांड को लेकर कहा है कि यह बहुत दुखद घटना है और इसकी जितनी निंदा की जाए उतनी कम है। यह बहुत चिंता वाली बात है, शर्मनाक भी है, मैं समझता हूं कि माहौल ठीक करने की आवश्यकता है। पूरे देश के अंदर तनाव का माहौल बन गया है, मैं बार-बार बोलता हूं मोदी जी को और अमित शाह जी को कि आप क्यों नहीं पूरे देश को संबोधित करें कि जो हालात बन गए हैं कुछ कारणों से, गलियों में, मोहल्लों में लोग ये समझ नहीं पा रहे हैं, कस्बों में जहां जिसकी आबादी कम संख्या में है, चाहे वो हिंदू है, मुस्लिम है, कोई भी है वो ज्यादा चिंतित है, इतना आपस में सौहार्द बिगड़ गया है, तनाव हो गया है, इसको समझाने की आवश्यकता है।

ये भी पढ़ें:  कश्मीर घाटी में लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी की मौत, लेकिन नहीं लगी पुलिस की गोली

दोषियों को नहीं बख्शेंगे, पुलिस भी मुस्तैद, माहौल न बिगाड़ें : गहलोत

प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि मैंने सबसे अपील की है अभी मैंने नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया से बात भी की है, हमारी आपस में बातचीत भी हुई है, वो सीएमओ के संपर्क में भी हैं, हम चाहते हैं कि सब मिलकर ऐसे वक्त में तनाव पैदा नहीं हो, सब मिलकर वापस शांति से रहें और दोषी जो हैं, उनको बख्शा नहीं जाएगा। इसके लिए पूरी पुलिस मुस्तैदी से लगी हुई है। गिरफ्तार करने और किसी भी मामले में कोई कमी नहीं रखेंगे।

Never miss any important news. Subscribe to our newsletter.

Leave a Reply

Recent News

Related News