Home भोपाल संगठन से जुड़े रहने पर दीपक की तरह प्रकाशमान रहता है कार्यकर्ता

संगठन से जुड़े रहने पर दीपक की तरह प्रकाशमान रहता है कार्यकर्ता

82
0

स्वदेश संवाददाता। भोपाल संगठन से जुड़े रहने पर दीपक की तरह कार्यकर्ता हमेशा प्रकाशमान रहता है। उक्त विचार लघु उद्योग भारती के अखिल भारतीय अध्यक्ष बलदेव भाई प्रजापति ने 20 और 21 फरवरी को शारदा विहार आवासीय विद्यालय भोपाल में आयोजित की गई कार्यशाला सत्र के समापन पर अध्यक्षीय उद्बोधन में व्यक्त किए। कार्यशाला में प्रदेश के अधिकतम जिलों से पदाधिकारी उपस्थित रहे। दो दिवसीय कार्यशाला का उद्घाटन लघु उद्योग भारती के अखिल भारतीय अध्यक्ष बलदेव भाई प्रजापति, पूर्व अखिल भारतीय अध्यक्ष जितेन्द्र गुप्त एवं अखिल भारतीय संयुक्त महामंत्री सुधीर दाते द्वारा किया गया। प्रथम दिवस संपूर्ण प्रदेश से आए हुए पदाधिकारियों को संगठन के कार्य विस्तार एवं रीति-नीति की जानकारी अभ्यास वर्ग के माध्यम से दी गई तथा बैठक के दूसरे दिन अलग-अलग चार सत्रों में संपूर्ण कार्यक्रम संपन्न हुआ जिसमें प्रथम सत्र में अखिल भारतीय अध्यक्ष बलदेव भाई प्रजापति उपस्थित हुए।
प्रदेश में उद्योगों की संख्या बढ़ी: महेश
आयोजित कार्यक्रम में प्रदेशाध्यक्ष महेश गुप्ता द्वारा अध्यक्षीय स्वागत भाषण के साथ में पिछले दो वर्षों में संगठन की जो भी उपलब्धियां रही हैं, उसकी जानकारी सभी सदस्यों के समक्ष रखते हुए बताया कि शासन की नीतियों में बड़े उद्योगों को ज्यादा सहूलियत देकर सूक्ष्म एवं लघु उद्योगों को इस समय प्रदेश में अधिक से अधिक उद्योग लगे और उत्पादन बढ़ भी बढ़ा है। उन्होने बताया कि रोजगार में वृद्धि हो इसीलिए उद्योग भूमि संबंधी नीतियों को सरल बनाना एवं अधिक से अधिक उद्योग स्थापित हो, ऐसी नीतियों के लिए शासन से मांग का आवाहन किया है। उन्होने पिछले 18 माह में प्रदेश में लघु उद्योग भारती द्वारा प्रत्येक इकाई के क्या-क्या कार्य किए गए, उसका प्रतिवेदन भी प्रस्तुत किया।
संगठन का कैलेंडर विमोचित हुआ
बैठक में दूसरे दिन अलग-अलग चार सत्रों में संपूर्ण कार्यक्रम संपन्न हुआ, जिसमें की प्रथम सत्र में अखिल भारतीय अध्यक्ष बलदेव भाई प्रजापति की उपस्थिति में संगठन के कैलेंडर का विमोचन किया गया। श्री प्रजापति जी द्वारा कैलेंडर की खास बात बताते हुए यह बताया कि यह कैलेंडर हिंदू संस्कृति अनुसार अप्रैल 2021 से मार्च 2022 तैयार किया गया हैस विमोचन की इस श्रृंखला में संगठन के ब्रोशर एवं ग्राम शिल्पी प्रकोष्ठ के ब्रॉशर का भी अनावरण किया गया। संगठन के महासचिव राजेश मिश्रा द्वारा पिछले 2 वर्षों में संगठन का कार्य विस्तार की जानकारी सभी पदाधिकारियों के सामने रखी गई। प्रदेश कार्यालय प्रमुख एवं कोषाध्यक्ष अरविंद मनोहर काले द्वारा वर्ष 2020. 21 के आय-व्यय का हिसाब एवं प्रत्येक जिले में सदस्य संख्या की जानकारी सभी के समक्ष रखी और सभी पदाधिकारियों को फॉर्म अपलोडिंग की जानकारी से भी अवगत कराया।
हैंडलूम क्लस्टर का निर्माण
यहां पर धामनोद इकाई अध्यक्षा श्रीमती सीमा मिश्र द्वारा जिला खरगोन तहसील कसरावद में हैंडलूम क्लस्टर का निर्माण कर 400 से अधिक महिला एवं पुरूष हथकरघा हैंडलूम प्रशिक्षण देकर रोजगार से एवं जीवन यापन हेतु क्लस्टर की रचना की गई, इसका उद्घाटन मार्च या अप्रैल में केन्द्रीय उद्योग मंत्री नितिन गडकरी से कराए जाने का प्रयास किया जा रहा है।
ग्रामोद्योग को बढाएंगे
कार्यशाला में अन्य अलग-अलग सत्रों में उद्योगों एवं संगठन के विषय से संबंधित विस्तृत चर्चा की गई जिनमें संगठन विस्तार, विभिन्न उत्पाद समूह बनाकर कार्य करने की रचना, ग्राम शिल्पी, ग्रामोद्योग को बढ़ावा देना एवं संगठन का प्रचार प्रसार प्रमुख रहा। उद्योगों को अपने कर्मचारियों के लिए ईएसआईसी को किस तरह अपनाना चाहिए, इस विषय पर संगठन के प्रदेश सचिव संजय पटवर्धन ने प्रशिक्षण दिया।
ये रहे विशिष्ट अतिथि
अंतिम सत्र में राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ लघु उद्योग भारती के पूर्व पदाधिकारी डॉ. अजय नारंग एवं शिरीष परांडेकर विशिष्ट अतिथि के रूप में उपलब्ध हुए। श्री शिरीष जी ने जहां पदाधिकारियों को उद्योग परिवार एवं समाज के बीच में समन्वय बेहतर करना बताया वहीं डॉ अजय नारंग ने अपने आध्यात्मिक सारगर्भित तथा तथ्य पूर्ण बातों से संगठन की भविष्य की रीति नीति कैसी हो इस बारे में प्रकाश डाला। कार्यशाला में अंतिम दिवस आभार प्रदर्शन एमएम शर्मा द्वारा किया गया। दो दिवसीय बैठक में प्रदेश के पदाधिकारियों सहित भोपाल के अनेक गणमान्य उद्यमी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here