Home भोपाल प्रेमिका के धोखा देने से दुखी युवक ने 8 पेज का सुसाइड...

प्रेमिका के धोखा देने से दुखी युवक ने 8 पेज का सुसाइड नोट लिखकर लगाई फांसी

13
0

युवक की कथित प्रेमिका उस पर प्रकरण भी दर्ज करा चुकी है
भोपाल।
जहांगीराबाद थाना क्षेत्र में रहने वाले एक युवक ने अपनी प्रेमिका द्वारा धोखा देने का जिक्र करते हुए आठ पेज का सुसाइड नोट लिखकर खुदकुशी कर ली है। मृतक भोपाल में अकेला रहता था और एक प्रिंटिंग प्रेस में काम करता था। मृतक के बड़े भाई के इंदौर से भोपाल आने के बाद पुलिस उसका पोस्टमार्टम कराना शुरू कर दिया है। बताया जाता है कि प्रेमिका ने उसे छोड़ दिया था और उसके खिलाफ किसी थाने में प्रकरण भी दर्ज कराया था। जहांगीराबाद पुलिस के अनुसार विनोद वर्मा पिता स्वर्गीय अशोक वर्मा (26) मकान नंबर 17/2, गली नंबर-1 अहीरपुरा, जहांगीराबाद में रहता था। प्रिंटिंग प्रेस में काम करने वाले विनोद के परिवार में बड़ा भाई बहन और मां है। सभी लोग इंदौर में रहते हैं। यहां विनोद अकेला ही रहता था। विनोद का दो मंजिला मकान है और पड़ोस में उसके चाचा और उनका परिवार रहता है। बुधवार दोपहर विनोद को देखा परिजन ने देखा था। इसके बाद देर रात दस बजे तक वह नजर आया। चचेरे भाई उसके घर पहुंचे तो ग्राउंड लोर पर विनोद नजर नहीं आया। प्रथम तल पर जाकर देखा तो नाइलोन की रस्सी का फंदा बनाकर विनोद फांसी पर लटक था। चचेरा भाइयों ने अशोका गार्डन में रहने वाले ताऊ के बेटे अमित कुमार को घटना की जानकारी दी। अमित कुमार, विनोद के घर पहुंचा और पुलिस को घटना की जानकारी दी।
शाम छह से रात दस के मध्य की घटना
परिजन ने पुलिस को बताया कि विनोद ने शाम छह बजे से रात दस बजे के बीच फांसी लगाई है। थाना प्रभारी वीरेंद्र सिंह ने बताया कि विनोद के पास से आठ पन्ने का एक सुसाइड नोट मिला है। उसमें लिखा है कि प्रेमिका ने मुझे धोखा दे दिया। सुसाइड नोट की पड़ताल से यह बात भी सामने आई कि उसकी एक तरफा प्रेमिका द्वारा उसके खिलाफ कोई शिकायत भी दर्ज कराई गई थी। पुलिस उसके बारे में जानकारी जुटा रही है। परिवार में पिता की भी मृत्यु हो चुकी है। विनोद का बड़ा भाई इंदौर में काम करता है और मां बहन के साथ रहता है। पुलिस ने घटना की जानकारी विनोद के बड़े भाई को दे दी है। वह इंदौर से देर रात भोपाल पहुंच गया था।
नाले में मिला नवजात शिशु का शव
इसी थाना क्षेत्र में एमएलबी गेट के पास नाले में से एक नवजात शिशु की लाश पुलिस ने बरामद की है। एएसआई जगदीश रावत ने बताया कि बुधवार शाम सूचना मिली थी कि नाले में किसी नवजात बच्चे का शव पड़ा हुआ है। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर शव पीएम के लिए भेज दिया गया। नवजात का शरीर पूरी तरह से विकसित था और उसका बांया हाथ कोहनी के पास नहीं था। इसके अलावा बांए पैर का पंजा भी नहीं था। पुलिस का कहना है कि पानी में पड़े रहने के कारण उसका बांया हाथ और पैर गल गया है। अनुमान लगाया जा रहा है कि शिशु करीब दो दिन से नाले में पड़ा होगा। पुलिस पीएम रिपोटज़् मिलने का इंतजार कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here