Home भोपाल कोरोना पॉजिटिव असिस्टेंट डायरेक्टर के घर से पिस्टल सहित तीन लाख की...

कोरोना पॉजिटिव असिस्टेंट डायरेक्टर के घर से पिस्टल सहित तीन लाख की चोरी

13
0

बिना ताला तोड़े आलमारी से सामान गायब, नौकर व परिचित पर शक

भोपाल। शिक्षा विभाग की असिस्टेंट डायरेक्टर के शिवाजी नगर स्थित सरकारी निवास से बदमाश पिस्टल सहित करीब ढाई लाख रुपए का सामान चोरी कर ले गए हैं। बदमाशों ने गेट नहीं तोड़ा, बिना ताला तोड़े आलमारी से सामान गायब किया गया है। ऐसे में नौकरों व करीबियों पर शक है। एमपी नगर पुलिस के अनुसार ऊषा सिंह शिक्षा विभाग में असिस्टेंड डायरेक्टर हैं। उनके पति नरेश पाल सिंह बीएसएनएल के सहायक महाप्रबंधक के पद से सेवानिवृत्त हैं। नरेश पाल सिंह ने एमपी नगर पुलिस को बताया कि उनकी पत्नी ऊषा सिंह कोरोना संक्रमित होने के बाद पांच मई को नर्मदा अस्पताल में भर्ती हो गई थीं। इसके बाद वे ज्यादातर समय अस्पताल में आने-जाने में ही लगाते थे। घर में नौकर काम करते हैं। नरेश पाल सिंह एफ-124 की लाइन में शिवाजी नगर में परिवार सहित रहते हैं। उनकी पत्नी कोरोना से स्वस्थ होने के बाद गत दिनों घर आ गई हैं। इसके बाद 28 मई को जब उन्होंने आलमारी खोली तो देखा तो उसमे रखी 32 बोर की पिस्टल और सोने के जेवर चोरी हो चुके थे। चोरी गए सामान की कीमत करीब ढाई लाख से अधिक आंकी गई है। एमपी नगर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ चोरी का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

निजी कॉलेज की रजिस्ट्रार ने फांसी लगाकर दी जान
बिलखिरिया थाना क्षेत्र स्थित पटेल नगर में शनिवार दोपहर निजी कॉलेज के की रजिस्ट्रार ने फ ांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजन से पूछताछ में पता चला कि वह चार-पांच साल से बीमारी के कारण परेशान थी और पहले भी आत्महत्या का प्रयास कर चुकी थीं। थाना प्रभारी उमेश सिंह चौहान ने बताया कि मूलत: महाराष्ट्र निवासी ज्योत्षिना सिंह पति बलराम (38) पटेल नगर में रहती थी। ज्योत्सना निजी कॉलेज में रजिस्ट्रार थी। उनके पति भी निजी कॉलेज में नौकरी करते हैं। करीब 17 साल पहले ज्योत्सना और बलराम की शादी हुई थी। दोनों का पंद्रह साल का बेटा भी है। ज्योतसना अक्सर बीमार रहती थी। बीमार रहने के कारण वे शारीरिक रूप से काफी कमजोर हो चुकी थी। शनिवार दोपहर करीब तीन बजे ज्योत्सना ने अपने कमरे में फांसी लगा ली थी। पति बलराम उन्हें फं दे से उतारकर निजी अस्पताल लेकर पहुंचा, वहां हमीदिया ले जाने की सलाह दी गई। हमीदिया पहुंचने पर डॉक्टर ने ज्योत्षिना को मृत घोषित कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here