Home » बोरवेल में गिरी सृष्टि को रोबोटिक टेक्निक से खींचा बाहर, अस्पताल में डॉक्टरों ने घोषित किया मृत

बोरवेल में गिरी सृष्टि को रोबोटिक टेक्निक से खींचा बाहर, अस्पताल में डॉक्टरों ने घोषित किया मृत

सीहोर के मुंगावली में 300 फीट गहरे बोरवेल में गिरी 3 साल की मासूम को 52 घंटे के बाद निकल लिया गया। लेकिन उसकी जिंदगी वापस नहीं आ सकी। सृष्टि को रोबोटिक टेक्निक से बाहर खींचा गया। बाहर आते ही बच्ची कोई रिस्पॉन्स नहीं कर रही आनन फानन में टीम उसे लेकर अस्पताल पहुंची जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया।

बाहर निकालने पर बेहोश थी बच्ची

रोबोट टीम के प्रभारी महेश आहीर ने बताया कि जब बच्ची को बाहर निकाला गया, तब वह बेहोश थी। वह किसी प्रकार से रिस्पॉन्स नहीं कर रही थी। हमने रोबोट के डेटा के साथ सेना, एनडीआरएफ की मदद से पूरा रेस्क्यू किया है। बच्ची के बाहर आते ही डाॅक्टर ने बच्ची को लिया और एंबुलेंस में लेकर उसे अस्पताल लेकर रवाना हो गए।

मंगलवार को बच्ची बोर में गिरी थी। बुधवार को एनडीईआरएफ व एसडीईआरएफ के प्रयास विफल होने के बाद बैरागढ़ ईएमई सेंटर से सेना के जवानों को बुलाया गया था। आर्मी जवान 300 फीट गहरे बोरवेल में 100 फीट की दूरी पर फंसी सृष्टि को राड हुक से 90 फीट तक ऊपर ले आए थे, लेकिन दस फीट पहले वह छूटकर गिर गई। इसके बाद दिल्ली व जोधपुर से एक्सपर्ट की टीम बुलाई गई थी। वही गुजरात की स्पेशल रोबोट टीम से भी मदद मांगी गई थी जो सुबह 9 बजे मुंगावली पहुंची, यहां पहुंचते ही टीम ने बोरवेल से सृष्टि को निकालने के लिए रेस्क्यू शुरू कर दिया थी।

Swadesh Bhopal group of newspapers has its editions from Bhopal, Raipur, Bilaspur, Jabalpur and Sagar in madhya pradesh (India). Swadesh.in is news portal and web TV.

@2023 – All Right Reserved. Designed and Developed by Sortd