Home भोपाल वैक्सीन मिलने से 10 घंटे अफरा-तफरी:नरसिंहपुर में लावारिस मिला कोवैक्सीन के 2.40...

वैक्सीन मिलने से 10 घंटे अफरा-तफरी:नरसिंहपुर में लावारिस मिला कोवैक्सीन के 2.40 लाख डोज से लदा ट्रक; ड्राइवर लापता

85
0

नरसिंहपुर/करेली, 8 करोड़ रुपए की कोरोना वैक्सीन से लदा ट्रक 10 घंटे तक करेली के पास लावारिस खड़ा रहा। पुलिस व प्रशासन को इसकी जानकारी लगने के बाद हड़कंप की स्थिति निर्मित हो गई और ड्राइवर विवेक मिश्रा की तलाश शुरू हुई। जानकारी के अनुसार करेली के मध्य से गुजरे ओल्ड एनएच-26 पर बस स्टैंड के पास ट्रक (टीएन06क्यू6482) शुक्रवार सुबह 8 बजे स्थानीय लोगों ने चालू हालत में देखा। लंबे समय तक ड्राइवर का कोई पता नहीं चला तो दोपहर 12.30 बजे नागरिकों ने पुलिस को सूचना दी। करेली पुलिस ने छानबीन शुरू की तो पता चला कि ट्रक से कोरोना की एंटी डॉट को-वैक्सीन ट्रांसपोर्ट हो रही थी। मौके पर तहसीलदार भी पहुंचे। इस संबंध में जिला टीकाकरण अधिकारी को सूचना भी दी। जानकारों का कहना है कि चूंकि ड्राइवर ट्रक को स्टार्ट रख गया था। इसलिए वैक्सीन की कोल्ड चेन मेंटेंन रही, जिससे उसके खराब होने की संभावना नहीं है।
झाड़ियों में पड़ा मिला ड्राइवर का मोबाइल फोन
एसआई आशीष बोपचे ने बताया, दस्तावेजों की जांच के बाद पता चला कि वैक्सीन हैदराबाद से करनाल जा रही थी। सम्बंधित कम्पनी से संपर्क करने पर पता चला कि ट्रक में सिर्फ ड्राइवर था, जिससे करीब 9 बजे से संपर्क नहीं हो रहा है और गाड़ी की जीपीआर लोकेशन भी एक ही जगह आने से कंपनी के अधिकारी भी सकते में थे। ट्रक ड्राइवर की मोबाइल लोकेशन करेली से करीब 16-17 किलोमीटर दूर एनएच-44 के किनारे नरसिंहपुर के नजदीक झाड़ियों में मिली, जहां पुलिस को चालू हालत में ड्राइवर का मोबाइल मिला, जिसमें तब तक 122 मिस्ड कॉल थे।
ट्रक में लदे हैं कोवैक्सीन के 364 बड़े बॉक्स, ट्रक चालू था इसलिए सुरक्षित
दस्तावेजों की तलाशी से पता चला कि ट्रक में 364 बॉक्स को-वैक्सीन लोड है। करीब 2 लाख 40 हजार डोज की जानकारी दस्तावेज में थी। ड्राइवर विवेक की जानकारी उसके परिजनों सहित कंपनी से भी ली है और कंपनी द्वारा दूसरे ड्राइवर को नागपुर से रवाना भी किया गया।

Previous articleकोरोना संकट के बीच केंद्र सरकार ने खोला खजाना, राज्यों को जारी की गई 8873 करोड़ की पहली किस्त
Next articleचीन के विदेश मंत्री ने एस जयशंकर से की बात, कोरोना के साथ एलएसी पर भी हुई चर्चा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here