Home भोपाल छह दिन तक कोरोना मरीज के इलाज का अस्पताल ने 5 लाख...

छह दिन तक कोरोना मरीज के इलाज का अस्पताल ने 5 लाख 53 हजार रुपए बनाया बिल, बकाया के चलते शव देने से किया इनकार

17
0

भोपाल। कोरोना से संक्रमित एक मरीज के इलाज का सिद्धांता रेड क्रॉस अस्पताल ने ₹553000 बिल बनाया है। परिजन ने बिल नहीं चुकाया तो अस्पताल प्रबंधन ने मृतक का शव देने से मना कर दिया। या आरोप भोपाल की रहने वाली जागृति वैष्णव ने लगाए हैं।

उन्होंने बताया कि उनके पिता प्रकाश वैष्णव को 21 अप्रैल की रात 1:30 बजे सिद्धांता रेड क्रॉस में एडमिट किया था। उन्हें कोरोना था। 26 अप्रैल को रात्रि 9:30 बजे उनका देहांत हुआ। इलाज के दौरान 2 लाख 25 हजार हॉस्पिटल में जमा किए और बाहर से दवाइयां एवं इंजेक्शन का प्रबंध किया। उन्होंने आरोप लगाया कि पिता के देहांत के पश्चात सिद्धांता रेड क्रॉस पार्थिव देह को देने के लिए 3.25 लाख रुपए की मांग कर रहा है। उन्होंने कहा कि पिताजी का गलत उपचार किया गया एवं पैसों के लालच में उन्हें जनरल वार्ड से आईसीयू में शिफ्ट किया गया। शाम तक उनकी पल्स नॉर्मल थी। एकदम से उन्हें ऐसा क्या दिया गया जिस वजह से उनका हृदयाघात हुआ और मृत्यु हुई। अस्पताल प्रशासन हमें कोई भी जानकारी नहीं दे रहा है एवं पार्थिव शरीर देने के लिए पैसा देने के लिए दबाव बना रहा है। इस संबंध में अस्पताल के संचालक डॉक्टर सुबोध वार्ष्णेय ने कहा कि कोरोना प्रोटोकॉल के तहत सब परिजन को नहीं सौंपा जा सकता। उन्होंने कहा कि बिल गलत नहीं बनाया गया है। जांच, दवाएं और आईसीयू का चार्ज मिलाकर 5 लाख 53 हजार बिल बना है। परिजन को कहा गया है कि वह अपनी सुविधा अनुसार बाद में भुगतान कर देगे। 1 लाख रुपए छोड़ भी दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here