Home भोपाल जरूरी चीजों की शनिवार रात 8 बजे तक कर लें खरीदारी क्योंकि...

जरूरी चीजों की शनिवार रात 8 बजे तक कर लें खरीदारी क्योंकि रविवार टोटल लॉकडाउन जारी रहेगा

45
0

भोपाल, भोपाल के बाजारों में दो महीने बाद पहली बार शनिवार को भी रौनक रहेंगी। 8 जून को कलेक्टर अविनाश लवानिया ने आदेश जारी कर दिए थे। वहीं रविवार को सबकुछ बंद रहेगा। न तो होटल और रेस्टोरेंट खुलेंगे और न ही वहां से होम डिलीवरी की सुविधा मिलेगी। सिटी बसें भी बंद रहेंगी। सिर्फ दवा, दूध डेयरी एवं स्वास्थ्य सेवाओं को छूट रहेगी। इसलिए लोग शनिवार को जरूरत का सामान खरीद लें। रात 8 बजे तक दुकानें खुली रहेंगी। करीब दो महीने के बाद गुरुवार से राजधानी के बाजारों में रौनक लौटी है। कपड़ा, सोना-चांदी से लेकर बर्तन, बाइक-कार शोरूम तक सब खुल गए हैं, लेकिन कोरोना का संक्रमण खत्म नहीं हुआ है। इसलिए रविवार को कर्फ्यू लागू रहेगा। इस दिन कोई भी व्यवसायिक गतिविधि नहीं होगी। उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई होगी। बता दें कि एक जून को सीमित छूट के साथ बाजार खोल दिए गए थे और प्रत्येक शनिवार व रविवार को कर्फ्यू जारी रखा था। 7 जून को व्यापारियों के विरोध के बाद जिला प्रशासन ने शनिवार का कर्फ्यू हटाते हुए सभी दुकानें खोलने की मंजूरी दे दी थी।
रात 8 बजे तक बंद होंगी दुकानें
शनिवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू रहेगा। लिहाजा, दुकानदारों को रात में जल्दी दुकानें बंद करना होगी। शहर में करीब 125 स्थानों पर पुलिस चेकिंग करेगी। घरों से बेवजह निकलने वालों पर कार्रवाई होगी।
रविवार को सिर्फ इन्हें मिलेगी छूट
दूध डेयरी, सांची पार्लर सुबह 6 से 9 बजे तक खुल सकेंगी।
केमिस्ट एवं स्वास्थ्य सेवाओं से संबंधित प्रतिष्ठान खुले रहेंगे।
वैक्सीनेशन के काम में लगे अधिकारी और कर्मचारियों एवं वैक्सीन लगवाने वाले लोगों को आने-जाने की छूट रहेगी।
आवश्यक वस्तुओं के परिवहन, फैक्टरियों के मजदूर, कच्चे माल एवं उत्पाद का परिवहन
बीमार व्यक्तियों को अस्पताल लाने ले जाने
एयरपोर्ट एवं रेल्वे स्टेशन आने-जाने
ये बंद रहेंगे
होटल एवं रेस्टोरेंट बंद रहेंगे। होम डिलीवरी की सुविधा भी नहीं मिलेगी।
सिटी बसें नहीं चलेंगी।
आवश्यक सेवाओं को छोड़ अन्य कोई भी दुकानें नहीं खुलेगी।

Previous articleमंत्रिमंडल विस्तार के लिए PM मोदी खुद कर रहे मंत्रियों के ‘रिपोर्ट कार्ड’ की समीक्षा
Next articleदिग्जिय सिंह का बयान- कांग्रेस सत्ता में लौटी तो कश्मीर में धारा-370 पर होगा पुनर्विचार! भाजपा हमलावर, एनआईए से जांच की मांग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here