Home अन्य फूड इंस्पेक्टर द्वारा छेड़छाड़ का आरोप लगाए जाने के बाद हटाए गए...

फूड इंस्पेक्टर द्वारा छेड़छाड़ का आरोप लगाए जाने के बाद हटाए गए खातेगांव एसडीएम

13
0
Demo pic

देवास कलेक्टर ने एसडीएम को कलेक्टर कार्यालय में बनाया डिप्टी कलेक्टर
भोपाल।
देवास जिले में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। गुरुवार शाम को देवास जिले में पदस्थ एक फूड इंस्पेक्टर द्वारा खातेगांव एसडीएम पर सनसनीखेज आरोप लगाया है। मामला को तूल पकड़ता देख कलेक्टर ने एसडीएम को हटाकर कलेक्टर कार्यालय में डिप्टी कलेक्टर के रूप में पदस्थ कर दिया है। जानकारी के अनुसार बीते डेढ़ साल से खातेगांव तहसील क्षेत्र में महिला फूड इंस्पेक्टर पदस्थ हैं। गुरुवार शाम को महिला फूड इंस्पेक्टर ने पत्रकारवार्ता कर खातेगांव एसडीएम संतोष तिवारी पर यौन उत्पीडऩ का सनसनीखेज आरोप लगाया है। महिला फूड इंस्पेक्टर ने आरोप लगाया कि खातेगांव एसडीएम संतोष तिवारी उसे वाट्सएप पर अश्लील मैसेज भेजते हैं। इतना ही नहीं उसे अश्लील वाइस मैसेज भी भेजते हैं।

फूड इंस्पेक्टर ने मीडिया को बताया कि उसे कई अन्य तरीके से यौन उत्पीडऩा एसडीएम तिवारी द्वारा किया जा रहा है। उसने इस संबंध में देवास कलेक्टर चंद्रमौलि शुक्ला से भी की है। मामला मीडिया में आने के बाद देर रात जिला प्रशासन ने खातेगांव एसडीएम संतोष तिवारी को हटाते हुए कलेक्टर कार्यालय में डिप्टी कलेक्टर पदस्थ कर दिया है। हालांकि फूड इंस्पेक्टर के आरोप लगाए जाने के बाद संतोष तिवारी ने अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here